राज्यसभा की आचार समिति ने सोमवार को शराब उद्यमी विजय माल्या को राज्यसभा से निष्कासित करने की संस्तुति की। माल्या बैंकों से लिए गए नौ हजार करोड़ रुपये कर्ज नहीं लौटाने के मामले में वांछित हैं। माल्या को जवाब देने के लिए एक हफ्ते का समय दिया गया है। विजय माल्या के मुद्दे पर चर्चा के लिए राज्यसभा की आचार समिति की बैठक हुई। Also Read - विजय माल्या ने ब्रिटेन में ही रहने का 'एक और विकल्प' आजमाया, क्‍या जल्‍द नहीं हो पाएगा प्रत्‍यर्पण

जनता दल (युनाइटेड) के नेता और इस समिति के सदस्य शरद यादव ने कहा, “उनकी सदस्यता खत्म करने का निर्णय लिया गया है। इस पर सभी सदस्यों की सहमति थी।” Also Read - PMC Bank Scam: पत्नी को मिला ED का समन, संजय राउत ने किया ट्वीट-आ देखें जरा, किसमें कितना है दम

सरकार ने माल्या का पासपोर्ट रविवार को तब रद्द कर दिया, जब वह भारतीय बैंकों का 9000 करोड़ रुपये कर्ज न चुकाने के मामले में पेश नहीं हुए। इससे अरबपति माल्या के ब्रिटेन से निर्वासित करने की प्रक्रिया शुरू करने का मार्ग प्रशस्त हो गया है। माल्या अभी ब्रिटेन में ही हैं। Also Read - पूर्व पाक पीएम नवाज शरीफ के छोटे भाई गिरफ्तार, पाकिस्तान के नेता प्रतिपक्ष भी हैं शहबाज