नई दिल्ली: दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (डीएमआरसी) ने दक्षिण दिल्ली में संशोधित नागरिकता अधिनियम के खिलाफ हिंसक प्रदर्शनों को देखते हुए रविवार की शाम जीटीबी नगर, शिवाजी स्टेडियम, पटेल चौक और विश्वविद्यालय समेत कई मेट्रो स्टेशनों के द्वार बंद कर दिये. डीएमआरसी ने कई ट्वीट में कहा कि पुलिस की सलाह पर जीटीबी नगर, शिवाजी स्टेडियम, पटेल चौक, विश्वविद्यालय, वसंत विहार, मुनिरका, आर के पुरम मेट्रो स्टेशनों के प्रवेश और निकास द्वार बंद कर दिये गये. डीएमआरसी के अनुसार इन स्टेशनों पर ट्रेनें नहीं रूकेंगी.

इससे पूर्व डीएमआरसी ने दक्षिणपूर्वी दिल्ली में संशोधित नागरिकता अधिनियम के खिलाफ हिंसक प्रदर्शनों को देखते हुए सुखदेव विहार मेट्रो स्टेशन का प्रवेश एवं निकास द्वार बंद कर दिया था. डीएमआरसी ने ट्वीट किया, ‘‘दिल्ली पुलिस की सलाह पर सुखदेव विहार के प्रवेश एवं निकास द्वार तथा आश्रम स्टेशन के गेट नंबर 3 को बंद कर दिया गया है. ट्रेन सुखदेव विहार स्टेशन पर नहीं रुकेगी.’’ जामिया मिल्लिया इस्लामिया, ओखला विहार, जसोला विहार, शाहीन बाग के प्रवेश एवं निकास द्वार भी बंद कर दिए गए हैं और इन स्टेशनों पर कोई ट्रेन नहीं रुकेगी.

वहीं जामिया मिलिया इस्लामिया के समीप नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान प्रदर्शनकारियों एवं पुलिस के बीच झड़प के बाद कम से कम 35 घायल विद्यार्थियों को समीप अस्पताल ले जाया गया. सूत्रों ने यह जानकारी दी. सूत्रों के अनुसार 35 लोग घायल अवस्था में होली फैमिली अस्पताल में ले जाये गये. उनमें से 11 भर्ती को कराया गया.

(इनपुट भाषा)