विशाखापत्तनम: आंध्र प्रदेश के श्रीकाकुलम जिले में रविवार को एक सड़क दुर्घटना में तीन लोगों की मौत हो गई. तीनों विशाखापत्तनम में एक रिश्तेदार, जो शनिवार को हिंदुस्तान शिपयार्ड लिमिटेड के क्रेन दुर्घटना में मारा गया था, उसके अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए निकले थे. वे जिस कार से जा रहे थे, वह श्रीकाकुलम जिले के कांची में दुर्घटनावश एक स्टेशनरी ट्रक में जा घुसी. Also Read - पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की हालत नाजुक, 2007 के सड़क दुर्घटना में सिर पर आई थी चोट

विशाखापत्तनम अपने दामाद पी. भास्कर राव को आखिरी बार देखने आ रहे नागमणि (48) और उनकी बहू लावण्या (23) और वाहन चालक रोउतु द्वारका (23) की दुर्घटना में मृत्यु हो गई. पुलिस ने बताया कि दुर्घटना तब हुई जब कार एक खड़े ट्रक में पीछे से जा घुसी. नागमणि के बेटे ईश्वर राव और राजशेखर और एक अन्य बहू पितिली घायल हो गए हैं और उन्हें सोमपेटा के सरकारी अस्पताल भर्ती कराया गया. हालांकि बाद में उन्हें श्रीकाकुलम स्थित एक अस्पताल में स्थानांतरित कर दिया गया था. ईश्वर राव की हालत गंभीर बताई गई है. Also Read - Crane Collapses Accident: क्रेन हादसे में मरने वालों के परिजन को मिलेगी 50-50 लाख रुपये की अनुग्रह राशि

परिवार पश्चिम बंगाल के खड़गपुर से तब चला जब एचएसएल में क्रेन दुर्घटना में उनके दामाद की मौत हो गई थी. बीते शनिवार को एचएसएल में एक बड़ी क्रेन के दुर्घटनाग्रस्त होने से ग्यारह लोगों की मौत हो गई. मृतकों में एचएसएल के चार नियमित कर्मचारी और सात कॉन्ट्रैक्ट वाले कर्मचारी शामिल थे. भास्कर राव (35) लीड इंजीनियर्स के लिए काम कर रहे थे, जो कि ग्रीनफील्ड कंपनी द्वारा किराए पर ली गई दो फर्मों में से एक था. Also Read - Video: देखते ही देखते धराशायी हो गया विशाल क्रेन, हादसे में 10 की मौत, 1 घायल