नई दिल्‍ली: आंध्र प्रदेश के विशाखाट्पनम शुक्रवार को वाम दलों के कार्यकर्ता दक्षिण कोरियाई कंपनी ‘एलजी पॉलिमर्स इंडिया’ के संयंत्र में गैस रिसाव के मुद्दे को लेकर प्रदर्शन करने जा रहे थे, तभी पुलिस ने उन्‍हें गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने इस सिलसिले में वाम दलों के 96 कार्यकर्ताओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है.Also Read - PM मोदी ने तीसरी लहर के मद्देनजर कोरोना की ताजा स्थिति पर 6 राज्‍यों से मुख्‍यमंत्र‍ियों से किया संवाद

बता दें कि एलजी पॉलिमर्स लिमिटेड की फैक्टरी से सात मई को इस गैस रिसाव से 11 लोगों की मौत हो गई थी और विशाखापत्तनम के निकट पांच किलोमीटर की परिधि में स्थित गांवों के कई लोगों को सांस लेने में दिक्कत और अन्य समस्याएं हुई थीं. Also Read - PM मोदी आज 6 राज्‍यों के मुख्‍यमंत्र‍ियों से कोरोना की स्थिति पर VC के जरिए करेंगे चर्चा

Also Read - Andhra Pradesh Curfew Update: आंध्र प्रदेश ने सभी जिलों में कर्फ्यू में ढील दी, जानिए कहां मिली छूट

पुलिस ने कहा, हमने उन्‍हें गिरफ्तार किया है, क्‍योंकि उन्‍होंने विरोध प्रदर्शन की अनुमति नहीं ली थी. वाम दलों के 96 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है.

विशाखापत्तनम स्थित दक्षिण कोरियाई कंपनी ‘एलजी पॉलिमर्स इंडिया’ के संयंत्र में गैस रिसाव के कारण लोगों की मौत होने और स्वास्थ्य संबंधी खतरा पैदा हो गया था. वाम दल कंपनी से प्रभावितों के लिए बड़ी राहत राशि की मांग कर रहे हैं.