Vizag Gas Leak: आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम में स्थित एक केमिकल प्लांट से जहरीली गैस के रिसाव के बाद यहां 1 बच्चे समेत 7 लोगों की मौत हो गई है. आरएस वेंकटपुरन गांव में एलजी पॉलिमर फैक्ट्री में गैस लीक होने के कारण अबतक 120 लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. वहीं पुलिस प्रशासन अब घर घर जाकर लोगों की जांच कर रही है. राज्य के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी विजाग के लिए रवाना होने वाले हैं और जल्द ही किंग जॉर्ज अस्पताल जाएंगे जहां गैस से प्रभावित लोगों का इलाज किया जा रहा है. इस बीच मुख्यमंत्री रेड्डी को केंद्र सरकार का साथ मिल चुका है. इस दौरान पीएम नरेंद्र मोदी और अमित शाह ने हर संभव मदद उपलब्ध कराने को लेकर जगन मोहन रेड्डी को आश्वस्त किया. Also Read - भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच कई रक्षा समझौते, दोनों देश एक-दूसरे के सैन्य अड्डे करेंगे प्रयोग

इस मामले पर जानकारी देते हुए प्रधानमंत्री कार्यालय ने बताया कि विशाखापतनम में हुए गैस लीक पर पीएम नरेंद्र मोदी ने आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री जगनमोहन रेड्डी से बात की है. इस घटनाक्र पर उन्होंने मुख्यमंत्री जगनमोहन रेड्डी को हर संभव सहायता उपलब्ध कराने का आश्वासन भी दिया है. वहीं गैस लीक मामले पर केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि विशाखापतनम की घटना परेशान करने वाली है. एनडीएमए (National Disaster Management Authority) के अधिकारियों से इस संबंध में बात की गई है. हम स्थिति पर बारीकी से नजर बनाए हुए हैं. मैं विशाखापत्तनम की लोगों की भलाई की कामना करता हूं. Also Read - ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री ने पीएम मोदी से कहा- आपको 'गुजराती खिचड़ी' बनाकर खिलाऊंगा, समोसों का भी हुआ ज़िक्र

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विशाखापत्तनम (आंध्र प्रदेश) की स्थिति के मद्देनजर एनडीएमए (राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण) की बैठक बुलाई है. इस बैठक में केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह भी मौजूद रहे. वहीं इस मामले पर राज्य गहमंत्री जी किशन रेड्डी ने कहा कि इस मामले पर गृह राज्यमंत्री जी किशन रेड्डी ने कहा कि आंध्र प्रदेश के विशाखापत्तनम में एक निजी फर्म में गैस रिसाव के कारण निधन होने वाले 5 लोगों के परिवारों के प्रति मेरी संवेदना. स्थिति का जायजा लेने के लिए राज्य के मुख्य सचिव और DGP से बात की है. बता दें कि अबतक इस पूरे मामले में 7 लोगों के मौत की पुष्टि हो चुकी है. साथ ही 120 से ज्यादा लोगों क अस्पताल में इलाज किया जा रहा है.

 

बता दें कि इस मामले पर देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दुख व्यक्त करते हुए कहा कि विशाखापत्तनम के पास एक संयंत्र में गैस रिसाव की खबर सुनकर दुख हुआ, जिसने कई लोगों की जान ले ली. पीड़ित परिवारों के प्रति मेरी संवेदना. मैं घायलों के ठीक होने और सभी की सुरक्षा के लिए प्रार्थना करता हूं: राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद.