तमिलनाडु की पूर्व मुख्यमंत्री दिवंगत जे जयललिता की करीबी सहयोगी वीके शशिकला को जेल से रिहा होने से कुछ दिन पहले ही बुधवार को बुखार व सांस लेने में तकलीफ की शिकायत के बाद सरकारी बोरिंग अस्पताल में भर्ती कराया गया. जेल सूत्रों ने यह जानकारी दी. सूत्रों के मुताबिक इससे पहले जेल अस्पताल में उनका उपचार चल रहा था, लेकिन बाद में उन्हें बोरिंग अस्पताल ले जाया गया.Also Read - आयकर विभाग ने VK शशिकला की संपत्ति कुर्क की, जानें किस मामले में हुई कार्रवाई...

सूत्रों ने कहा कि अन्नाद्रमुक से निष्कासित नेता को ऐंबुलेंस से अस्पताल लाया गया और फिर व्हीलचेयर पर अंदर ले जाया गया. जेल के एक अधिकारी ने पूर्व में बताया कि जेल के अस्पताल में बुखार और सांस लेने में तकलीफ को लेकर उनका उपचार चल रहा था. अधिकारी ने कहा, ‘अब उन्हें बोरिंग अस्पताल ले जाया जाएगा.’ Also Read - Assembly Polls 2021: तमिलनाडु में विधानसभा चुनाव से पहले शशिकला का राजनीति से संन्यास का ऐलान, कहा- 'कभी सत्ता या पद की नहीं रही चाह'

अभी इस बात की पुष्टि नहीं हुई है कि उन्हें कोरोना वायरस संक्रमण है या नहीं. आय के ज्ञात स्त्रोत से 66 करोड़ रुपये ज्यादा की संपत्ति के मामले में फरवरी 2017 में चार साल कैद की सजा पाने वाली शशिकला को यहां पराप्पना अग्रहारा जेल में रखा गया है. उनकी बीमारी ऐसे समय सामने आई है जब एक हफ्ते बाद 27 जनवरी को वह जेल से रिहा की जाने वाली हैं. Also Read - चार साल जेल की सजा काट तमिलनाडु पहुंची शशिकला, भव्य स्वागत के लिए पटाखे ले जा रही दो गाड़ियों में लगी आग

(इनपुट: भाषा)