नई दिल्ली: हरियाणा की जींद विधानसभा सीट पर उपचुनाव के लिए सोमवार को मतदान जारी है. ठिठुरन के बावजूद कुछ मतदान केंद्रों पर सुबह से ही लोग कतारों में खड़े नजर आ रहे हैं. मतदान सुबह सात बजे शुरू हुआ है और शाम पांच बजे तक जारी रहेगा. मतदान के लिए सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं. हरियाणा पुलिस और अर्ध-सैनिक बल के 3,000 से अधिक जवान तैनात हैं. जींद में 1.72 लाख से अधिक पंजीकृत मतदाता हैं. 1.7 लाख पंजीकृत मतदाताओं में से अनुसूचित जाति व पिछड़ा वर्ग का लगभग 50 प्रतिशत और जाटों का लगभग 25 प्रतिशत वोट है. वोटों की गिनती गुरुवार को होगी. Also Read - शिवराज चौहान ने पूछा- क्या राहुल गांधी की कांग्रेस अलग है और कमलनाथ की कांग्रेस अलग?

इस उपचुनाव में दो महिला उम्मीदवारों सहित 21 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं. इसमें सत्तारूढ़ भाजपा के डा. कृष्णलाल मिढ़ा, कांग्रेस के रणदीप सिंह सुरजेवाला और इनेलो के उम्मेद सिंह शामिल हैं. इसके अलावा सांसद दुष्यंत चौटाला के भाई दिग्विजय सिंह चौटाला भी चुनाव मैदान में हैं. यह उपचुनाव जींद से इनेलो विधायक डा. हरिचंद मिढ़ा के निधन के कारण हो रहे हैं। Also Read - सोनिया गांधी का केंद्र पर हमला, बोलीं- शासक के जीवन में अंहकार और वादाखिलाफी की जगह नहीं

वहीं राजस्थान में अलवर जिले के रामगढ़ विधानसभा क्षेत्र में सोमवार सुबह आठ बजे मतदान शुरू हो गया. रामगढ़ के निर्वाचन अधिकारी पंकज कुमार ने बताया कि 278 मतदान केन्द्रों पर मतदान सुबह आठ बजे शुरू हो गया. उल्लेखनीय है कि सात दिसम्बर को राजस्थान विधानसभा चुनाव से कुछ दिन पूर्व रामगढ़ विधानसभा क्षेत्र के बसपा प्रत्याशी लक्ष्मण सिंह के निधन के कारण इस सीट पर चुनाव स्थगित कर दिया गया था. रामगढ़ विधानसभा क्षेत्र में दो लाख 35 हजार 625 मतदाता मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे. इसमें से एक लाख 10 हजार 497 महिला मतदाता और एक लाख 46 हजार 613 पुरूष मतदाता है. Also Read - MP उपचुनाव: 18 प्रतिशत प्रत्याशियों पर हैं अपराधिक मामले, दागियों को टिकट देने में सपा-बीजेपी आगे

दो महिलाओं सहित 20 उम्मीदवार चुनावी मैदान में है. बहुजन समाज पार्टी (बसपा) ने पूर्व केन्द्रीय मंत्री नटवर सिंह के पुत्र जगत सिंह को चुनाव मैदान में उतारा है, जबकि सत्ताधारी कांग्रेस ने अलवर की पूर्व जिला प्रमुख साफिया जुबेर खान और भाजपा ने पूर्व प्रधान सुखवंत सिंह को मैदान में उतारा है. मतगणना 31 जनवरी को होगी.

राज्य में सात दिसम्बर को हुए 199 विधानसभा सीटों के चुनाव में 99 सीट पर कांग्रेस, एक सीट पर कांग्रेस की गठबंधन सहयोगी आरएलडी ने जीत दर्ज की थी. भाजपा ने 73 सीटों, बसपा ने छह, राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी ने तीन, माकपा और बीटीपी ने दो-दो सीटों पर जीत दर्ज की थी. इनके अलावा 13 सीटें निर्दलीयों को मिलीं.मतदान प्रक्रिया को शांतिपूर्ण संपन्न कराने के लिये करीब ढाई हजार पुलिसकर्मी तैनात किये गये है. नौ एरिया मजिस्ट्रेट भी चुनाव प्रक्रिया पर निगरानी रखे हुए है.