अमृतसर: चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने शनिवार को कहा कि 2019 के लोकसभा चुनाव में सभी मतदान केंद्रों पर वीवी पीएटी का इस्तेमाल किया जाएगा. अरोड़ा ने यहां कहा, ‘विगत में हुए चुनावों में वीवी पीएटी मशीनों का इस्तेमाल सफल रहा है और इसके प्रभाव को ध्यान में रखते हुए भारत निर्वाचन आयोग 2019 के लोकसभा चुनाव में सभी मतदान केंद्रों पर 100 प्रतिशत वीवी पीएटी मशीन उपलब्ध कराने को प्रतिबद्ध है.’

वीवी पीएटी एक ऐसी मशीन है जिससे उस पार्टी के चुनाव चिह्न वाली पर्ची निकलती है जिसे मतदाता ने वोट दिया होता है. इससे यह सुनिश्चित होता है कि वोट उसी उम्मीदावर को गया है, जिसे मतदाता ने वोट दिया हो. बाद में पर्ची एक बॉक्स में गिर जाती है और मतदाता इसे अपने घर नहीं ले जा सकता. अरोड़ा अमृतसर, जालंधर, तरनतारन, कपूरथला, गुरदासपुर, होशियारपुर और पठानकोट जिलों के चुनाव अधिकारियों के साथ बैठक के बाद संवाददाताओं से बात कर रहे थे.

बता दें कि राजनैतिक दल लगातार मांग कर रहे हैं कि चुनाव ईवीएम की बजाय बैलट पेपर से कराए जाएं. राजनैतिक दल कई बार ईवीएम पर सवाल उठा चुके हैं. विश्वसनीयता के लिए चुनाव आयोग ने वीवी पीएटी मशीन लगाए जाने की घोषणा की थी. कई जगहों पर ये मशीनें लगाई भी गई थीं, लेकिन हर जगह हर बूथ पर उपलब्ध नहीं थी.