भोपाल: मध्य प्रदेश के व्यावसायिक परीक्षा मंडल घोटाले की जांच केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) को सौंपे जाने के बाद आम आदमी पार्टी ने भी सड़क पर उतरकर शनिवार को राजधानी भोपाल की सड़कों पर प्रदर्शन किया। आप ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान व राज्यपाल रामनरेश यादव का इस्तीफा मांगा है। यह भी पढ़े:व्यापमं की सीबीआई जांच से कई की सांस फूलीं!Also Read - दिल्ली के कंस्ट्रक्शन मजदूरों को 5000 रुपये देगी केजरीवाल सरकार, जानें पूरी डिटेल

Also Read - Pollution: सुप्रीम कोर्ट ने पूछा, क्या सेंट्रल विस्टा के कारण दिल्ली में प्रदूषण बढ़ रहा है, मेट्रो को भी दिया ये आदेश

आप के वरिष्ठ नेता संजय सिंह और दिल्ली प्रदेश संयोजक दिलीप पांडे की अगुवाई में कार्यकर्ताओं ने शनिवार को रैली निकाली और प्रदर्शन किया। उसके बाद लिली चौराहे पर सभा हुई। इस प्रदर्शन में हिस्सा लेने आए संजय सिंह ने संवाददाताओं से चर्चा करते हुए राज्य सरकार पर जमकर हमले बोले और कहा, “इस मामले में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और राज्यपाल रामनरेश यादव की संलिप्तता जाहिर हो चुकी है, लिहाजा दोनों को अपने पदों से इस्तीफा दे देना चाहिए।” Also Read - Delhi Schools Reopen: दिल्ली में कल से खुलेंगे सभी स्कूल-कॉलेज-सरकारी दफ्तर, ट्रकों की एंट्री नहीं

आप नेताओं का कहना है कि नौजवान पीढ़ी को बर्बाद करने वालों को सत्ता में रहने का अधिकार नहीं है। मामले की जांच सीबीआई के पास है, जांच निष्पक्ष हो इसके लिए मुख्यमंत्री को इस्तीफा दे देना चाहिए। राज्यपाल रामनरेश यादव के खिलाफ तो मामला ही दर्ज हो चुका है। दोनों को अब पद पर रहने का नैतिक अधिकार नहीं है।

आप की इस रैली में बड़ी संख्या में कार्यकर्ता शामिल हुए। राजधानी में हो रही बारिश के बावजूद कार्यकर्ताओं का जोश कम नहीं हुआ। सुभाष नगर के पार्टी कार्यालय से शुरू हुई रैली में कार्यकर्ताओं के हाथ में शिवराज सिंह चौहान और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ नारे लिखे हुए बैनर, पोस्टर आदि थे।

राज्य में व्यावसायिक परीक्षा मंडल (व्यापमं) इंजीनियरिंग कालेज, मेडीकल कॉलेज में दाखिले से लेकर वे सारी भर्ती परीक्षाएं आयोजित करता है, जो मप्र लोक सेवा आयोग आयोजित नहीं करता है। इस मामले में हुई गड़बड़ियों के खुलासे के बाद सर्वोच्च न्यायालय ने सीबीआई जांच के आदेश दे दिए हैं।