बेंगुलुरु: कर्नाटक में विधायकों के इस्‍तीफे के बाद से एचडी कुमार स्‍वामी नीत संयुक्‍त कांग्रेस जेडीएस सरकार का संकट बरकरार है. इसी बीच बीजेपी विधायक दल की बैठक बेंगलुरु में चल रही है.  मीटिंग से पहले बीजेपी नेता बीएस येदियुरप्‍पा ने कहा, जब वे विश्‍वास खो चुके हैं तो उन्‍हें सरकार में बने रहने का नैतिक अधिकार नहीं है. यही वजह है कि हम उनके ( मुख्‍मंत्री एचडी कुमार स्‍वामी) के इस्‍तीफे की मांग कर रहे हैं.

बीजेपी नेता बीएस येदियुरप्‍पा ने कहा, हमारी पार्टी के विधायकों की मीटिंग है, वहां हम उचित निर्णय लेंगे. कल हमारे सभी कार्यकर्ता विरोध प्रदर्शन करेंगे, क्‍योंकि कांग्रेस- जेडीएस ने बहुमत खो दिया है इसलिए सीम को तुरंत इस्‍तीफा दे देना चाहिए. यही लोगों की इच्‍छा है.

सोमवार को सुबह निर्दलीय विधायक नागेश ने अपने मंत्री पद से इस्‍तीफा देने के बाद मुंबई के होटल सोफीटेल में पहुंच गए, जहां पहले कर्नाटक के विद्रोही विधायक इस्‍तीफा देने के बाद रुके हुए हैं. वहीं दूसरी ओर यह भी कहा जा रहा है कि इस्‍तीफा देने वाले कांग्रेस विधायक रामलिंगा रेड्डी की एमएलए बेटी सोमैया कल यानि मंगलवार को कांग्रेस विधायक दल की मीटिंग में भाग लेने बेंगलुरु आएगी.

कांग्रेस ने एक दर्जन से अधिक विधायकों के इस्तीफे से संकट में फंसी कर्नाटक की 13 माह पुरानी कांग्रेस-जदएस गठबंधन सरकार को बचाने की अंतिम कोशिश के तहत सोमवार को कहा कि मंत्रिमंडल में फेरबदल करने और असंतुष्ट विधायकों को उसमें जगह देने के लिए उसके 21 मंत्रियों ने स्वेच्छा से इस्तीफा दे दिया है. इसके बाद जेडीएस के 10 मंत्र‍ियों और एक अन्‍य पार्टी के मंत्री ने भी इस्‍तीफा दे दिया. इस घटनाक्रम के बीच में कर्नाटक सीएम और जेडीएस नेता एचडी कुमारस्‍वामी ने कहा, मैं वर्तमान राजनीतिक घटनाक्रम के बारे में किसी चिंता में नहीं हूं. मैं किसी राजनीति के बारे में डिस्‍कस नहीं करना चाहता हूं.

सरकार में मंत्री एवं निर्दलीय विधायक एच. नागेश ने सोमवार को इस्तीफा दे दिया और एच डी कुमारस्वामी नीत गठबंधन सरकार से समर्थन वापस ले लिया, जिससे राज्य में सत्तारूढ़ जद(एस)-कांग्रेस सरकार को एक और झटका लगा है. इसके अलावा एक और मंत्री ने इस्‍तीफा देने की चेतावनी दी है. अब बीजेपी के विधायक दल की बैठक में कर्नाटक की तेजी से बदल रहे घटनाक्रम के मद्देनजर रणनीति तैयारी होगी.