नई दिल्ली. देश से मच्छरों को समाप्त करने का निर्देश देने की एक याचिका पर सुप्रीम कोर्ट  ने कहा कि हम भगवान नहीं हैं. यह काम केवल ईश्वर कर सकता है. न्यायमूर्ति मदन बी लोकुर और न्यायमूर्ति दीपक गुप्ता की पीठ ने कहा, हम सभी के घर में जाकर यह नहीं कह सकते कि वहां कोई मच्छर या मक्खी है और उसे हटाइए.

पीठ ने कहा, आप हमसे जो करने के लिए कह रहे हैं, केवल ईश्वर वो कर सकता है. हमसे वो काम करने को नहीं कहें जो केवल भगवान कर सकते हैं. हम भगवान नहीं हैं. धनेश ईशधन की याचिका को खारिज करते हुए पीठ ने कहा, याचिका दाखिल करने का एक तरीका होता है.

मच्छर जनित बीमारियां पैदा करने वाले मच्छरों को मारने के लिए एकीकृत दिशानिर्देश निर्धारित करने की ईशधन की मांग पर पीठ ने कहा, हमें नहीं लगता कि कोई अदालत अधिकारियों को देश से मच्छर समाप्त करने का ऐसा कोई निर्देश दे सकती है.