नई दिल्ली: केंद्रीय मंत्री किरण रिजीजू ने गुरुवार को कहा कि जम्मू कश्मीर में हुए कायराना आतंकी हमलों के लिए जिम्मेदार लोगों को छोड़ा नहीं जाएगा और हर मुमकिन तरीके से इसका बदला लिया जाएगा. रिजीजू का यह बयान जम्मू कश्मीर के पुलवामा जिले में जैश-ए-मोहम्मद के एक फिदायिन हमले में सीआरपीएफ के 30 जवानों के शहीद होने के कुछ घंटों बाद आया है. वहीं, केंद्रीय गृह राज्‍य मंत्री हंसराज अहीर ने कहा कि जवानों की शहादत दुर्भाग्यपूर्ण है और हम इसे चुनौती के रूप में लेते हैं. इसका उपयुक्‍त जवाब दिया जाएगा.

पुलवामा में CRPF के काफिले पर बड़ा आतंकी हमला, अब तक 40 जवान शहीद

गृह राज्यमंत्री किरण रिजीजू ने एक ट्वीट में कहा, ”हम इस कायराना हमले का मुंहतोड़ जवाब देंगे. इसके लिए जिम्मेदारों को सजा दिए बिना नहीं रहेंगे. हम हर मुमकिन तरीके से इसका बदला लेंगे.” जम्मू कश्मीर के उरी में 2016 में हुए हमले के बाद से यह सबसे बड़ा आतंकी हमला है.

पुलवामा आतंकी हमले में 30 जवान शहीद, पीएम मोदी बोले-जवानों की शहादत व्यर्थ नहीं जाएगी

वहीं, केंद्रीय गृह राज्‍य मंत्री हंसराज अहीर ने कहा, पुलवामा में हुए IED ब्लास्ट ने हमारे कई सीआरपीएफ जवान शहीद हुए हैं. जवानों की शहादत दुर्भाग्यपूर्ण है और हम इसे चुनौती के रूप में लेते हैं. इसका उपयुक्‍त जवाब दिया जाएगा.

आतंकी हमले के बाद राजनाथ सिंह ने राज्‍यपाल से ली जानकारी, कल जा सकते हैं जम्मू-कश्मीर

बता दें कि जम्मू- कश्मीर के पुलवामा जिले में श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग पर गुरुवार को एक आत्मघाती हमलवार ने अपनी विस्फोटकों से लदी एसयूवी से केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) की बस से टकरा दी और उसमें विस्फोट कर दिया. इस आतंकी हमले में सीआरपीएफ के कम से कम 30 जवान शहीद हो गए और कई अन्य घायल हो गए. 1989 में आतंकवाद की शुरुआत के बाद से यह हमला जम्मू एवं कश्मीर में सबसे बड़ा आतंकी हमला है.

पुलवामा आतंकी हमला: प्रियंका ने 2 मिनट में खत्म की प्रेस कॉन्फ्रेंस, कहा सियासी चर्चा का सही वक्त नहीं

पाकिस्तान के आतंकी समूह जैश-ए-मोहम्मद ने इस वारदात की जिम्मेदारी ली है और आत्मघाती हमलावर का एक वीडियो जारी किया गया है, जिसे हमले से पहले शूट किया गया था. यह हमला यहां से करीब 30 किलोमीटर दूर लेथपोरा इलाके में हुआ. समूह ने कहा कि उसका एक कमांडर आदिल अहमद दार आत्मघाती हमलावर था.

आतंकी हमले के दुख को शब्दों में बयां नहीं कर सकता, सुरक्षाबल आतंकि‍यों को पराजित करेंगे: अमित शाह

पुलिस सूत्रों और अन्य अधिकारियों ने कहा कि एसयूवी चला रहे आत्मघाती हमलावर ने दोपहर करीब सवा तीन बजे अपने वाहन से सीआरपीएफ की बस में टक्कर मारी, जिससे बहरा कर देने वाला विस्फोट हुआ. घटना उस वक्त की है, जब 78 वाहनों के काफिले में 2,547 सीआरपीएफ जवान जम्मू के ट्रांजिट शिविर से श्रीनगर की ओर जा रहे थे.

शर्मिष्ठा मुखर्जी ने दिल्ली कांग्रेस की मुख्य प्रवक्ता के पद से दिया इस्‍तीफा