Weather Forecast Delhi Update: When will rain in Delhi? भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने बृहस्पतिवार को कहा कि दिल्ली और पंजाब के कुछ हिस्सों, हरियाणा और राजस्थान को मानसून की बारिश के लिए जुलाई तक इंतजार करना होगा. आईएमडी ने कहा कि दक्षिण-पश्चिम मानसून की उत्तरी सीमा बाड़मेर, भीलवाड़ा, धौलपुर, अलीगढ़, मेरठ, अंबाला और अमृतसर से होकर गुजरती है.Also Read - Monsoon 2022 Update: बारिश के साथ उत्तर भारत में मॉनसून की एंट्री होने वाली है, पहाड़ों से मैदानों तक बारिश | Watch Video

आईएमडी ने एक बयान में कहा कि मौजूदा मौसम संबंधी स्थितियां और पूर्वानुमानों से संकेत मिलता है कि अगले सप्ताह तक दक्षिण-पश्चिम मानसून के राजस्थान, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली और पंजाब के शेष हिस्सों में बढ़ने की संभावना नहीं है. Also Read - भाई के साथ मिलकर पत्नी को मार डाला, जब पुलिस का डर सताया तो खुद ही थाने जाकर बोला- बीवी लापता है

बयान के मुताबिक, 30 जून तक उत्तर पश्चिम भारत के अलग अलग स्थानों में हल्की से मध्यम स्तर की बारिश और गरज के साथ छीटें पड़ने की संभावना है. आईएमडी ने यह भी कहा कि भारत में अब तक मानसून के मौसम में 28 प्रतिशत अधिक बारिश हुई है. उसने कहा कि 23 जून तक 145.8 मिमि बारिश हुई है जबकि सामान्य बारिश 114.2 मिमि है. Also Read - हिंदू देवता पर ट्वीट का केस: दिल्ली की कोर्ट ने मोहम्मद जुबैर की हिरासत 4 दिन और बढ़ाई

बारिश नहीं होने की वजह से उत्तर-पश्चिम और आसपास के मध्य भारत के अधिकांश हिस्सों में अधिकतम तापमान में दो से तीन डिग्री सेल्सियस की वृद्धि होने की संभावना है. आईएमडी ने कहा कि देश के किसी भी हिस्से में लू चलने की संभावना नहीं है. केरल में दो दिन देरी से पहुंचने के बाद, मानसून ने पूरे देश में सामान्य से सात से 10 दिन पहले पूर्वी, मध्य और आसपास के उत्तर-पश्चिम भारत को कवर लिया है.

आईएमडी ने पहले अनुमान जताया था कि दिल्ली में हवा की स्थिति की वजह से समय से 12 दिन पहले 15 जून को मानसून आ सकता है. आम तौर पर मानसून 27 जून तक दिल्ली पहुंच जाता है और आठ जुलाई तक पूरे देश को कवर कर लेता है.

(इनपुट भाषा)