Weather Update: झुलसाती गर्मी और लू का प्रकोप झेल रहे उत्तर भारत के कुछ हिस्सों में मौसम का मिजाज बदलने की संभावना है. मौसम विभाग के मुताबिक दिल्ली-एनसीआर, हरियाणा, पंजाब और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में आज गरज के साथ हल्की बौछारें पड़ सकती हैं. साथ ही धूलभरी आंधी भी आ सकती है. मौसम विभाग ने कहा है कि राजस्थान, मध्य प्रदेश और विदर्भ के इलाकों में अभी गर्मी से राहत मिलने की उम्मीद नहीं है. इन इलाकों में अगले 3-4 दिनों तक यही स्थिति बनी रहेगी.

पाकिस्तान से आ रही पश्चिमी हवाओं ने बढ़ाई गर्मी

राजस्थान और उत्तर प्रदेश में बुधवार को कई जगहों पर पारा 47 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया. कुछ जगह हल्की फुल्की बारिश हुई, लेकिन इससे तापमान पर कोई खास असर नहीं पड़ा. दिल्ली में बुधवार को कुछ हिस्सों में अधिकतम तापमान 44 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया.

राजस्थान में, बुधवार को चुरू लगातार सबसे गर्म स्थान रहा. राज्य में अलग-अलग जगहों पर अधिकतम तापमान 47.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. अन्य हिस्सों में, कोटा में अधिकतम तापमान 47 डिग्री सेल्सियस, गंगानगर में 46.8 डिग्री, बीकानेर में 46 डिग्री, जैसलमेर में 45.1 डिग्री, अजमेर में 44.5 डिग्री और जयपुर में अधिकतम तापमान 44.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

उत्तर प्रदेश में बांदा में अधिकतम तापमान 47.2 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया. यह सामान्य से पांच डिग्री सेल्सियस ऊपर है. झांसी में तापमान 47 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. वहीं , आगरा में अधिकतम तापमान 45.5 डिग्री सेल्सियस, प्रयागराज में 44.7 डिग्री सेल्सियस, जबकि इटावा में पारा बढ़कर 44.8 डिग्री सेल्सियस पर रहा. हरियाणा में बुधवार को नारनौल में सबसे अधिकतम तापमान दर्ज किया गया. नारनौल में अधिकतम तापमान 45.3 डिग्री सेल्सियस रहा. पंजाब में लुधियाना में अधिकतम तापमान सामान्य से पांच डिग्री ऊपर 44.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. हिमाचल प्रदेश में अलग-अलग जगहों पर बारिश के बावजूद राज्य में बुधवार को तापमान में कुछ बढ़ोतरी दर्ज की गई.

मानसून को लेकर मौसम विभाग ने कहा है कि इसकी शुरुआत में एक हफ्ते की देरी हो सकती है और केरल में इसके 8 जून तक दस्तक देने की संभावना है. आम तौर पर मानसून एक जून को केरल में पहुंच जाता है और इसके साथ ही आधिकारिक तौर पर चार महीने के बारिश के मौसम का आगाज होता है. वहीं, मौसम का पूर्वानुमान लगाने वाली निजी एजेंसी स्काईमेट ने शनिवार को अपने संशोधित अनुमान में 4 जून से 7 जून के बीच इसके आने की उम्मीद जताई थी.

(इनपुट एजेंसी से)