Weather Latest Update: भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने कहा है कि अब दक्षिण-पश्चिम मानसून वापस जाने को है, लेकिन उत्तर पश्चिम मानसून आनेवाला है, जिससे हिमाचल प्रदेश में भारी बारिश हो सकती है. मौसम विभाग ने बताया कि पश्चिमी विक्षोभ के कारण देश के कई हिस्सों में हल्की से मध्यम दर्जे की बारिश हो सकती है. मौसम विभाग,  IMD के वरिष्ठ वैज्ञानिक आर के जेनामनि ( RK Jenamani) ने शुक्रवार को कहा, ‘नवीनतम अपडेट के अनुसार, उत्तर पूर्व, ओडिशा, आंध्र प्रदेश और कर्नाटक के बाकी हिस्सों से कल मानसून की पूरी तरह वापसी हो जाएगी. उत्तर पूर्व मानसून का आगमन 26 अक्टूबर से हो रहा है.’Also Read - Weather Update: कहीं ठंड से छूट रही कंपकंपी, कहीं बारिश से हाल-बेहाल, जानिए मौसम का मिजाज

दिल्ली में छाए रहेंगे बादल, हिमाचल में भारी बारिश का अलर्ट Also Read - Weather Latest Update: दिल्ली की हवा में हुआ सुधार, अगले पांच दिनों तक कैसा रहेगा मौसम का मिजाज, जानिए

जेनामनी ने बताया कि पश्चिमी विक्षोभ (Western Disturbance) के कारण शनिवार को दिल्ली में बादल छाये रहेंगे, वहीं जम्मू कश्मीर में हल्की बारिश होगी और इसके अलावा पंजाब में हल्की बौछारें पड़ने की संभावना है. वहीं. हिमाचल प्रदेश के कई इलाकों में शनिवार और रविवार को भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है. मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने भारी बारिश के साथ आंधी और बर्फबारी का येलो अलर्ट जारी किया है. उसके बाद 25 अक्तूबर को मौसम साफ रहने का पूर्वानुमान है। Also Read - Weather Latest Update: देश के कुछ राज्यों में चलेगी शीतलहर, कहीं बारिश से हाल-बेहाल, जानिए कैसा रहेगा मौसम

मौसम विभाग की मानें तो देश के विभिन्‍न हिस्‍सों में 25 अक्‍टूबर तक बारिश का दौर बना रहेगा. मौसम विभाग का कहना है कि एक ताजा पश्चिमी विक्षोभ पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र पर बन रहा है जिससे अगले कुछ दिनों में भारी बारिश और ओलावृष्टि की भी आशंका बन रही है.

राजस्थान-उत्तराखंड-हरियाणा में कहीं ओलावृष्टि, कहीं होगी हल्की बारिश 

विभाग के मुताबिक 23 अक्टूबर, 2021 को पश्चिम राजस्थान में अलग-अलग स्थानों पर ओलावृष्टि के साथ उत्तराखंड, हरियाणा, चंडीगढ़ और दिल्ली और राजस्थान में गरज के साथ हल्की से मध्यम छिटपुट वर्षा  होगी और हवा की रफ्तार 30-40 किमी प्रति घंटे की होगी इसके साथ वर्षा के दौरान बिजली गिरने की भी संभावना है. .

22-24 के दौरान जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, गिलगित-बाल्टिस्तान और मुजफ्फराबाद, हिमाचल प्रदेश और पंजाब में गरज, तेज हवाएं (30-40 किमी प्रति घंटे) और बिजली गिरने के साथ हल्की से मध्यम छिटपुट से व्यापक वर्षा होने की संभावना है.

मौसम विभाग ने जारी किए गए बुलेटिन में पहले ही बता दिया कि 22-24 अक्टूबर के दौरान एक ताजा पश्चिमी विक्षोभ के पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र खास तौर पर जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, हिमाचल प्रदेश, गिलगित-बाल्टिस्तान और मुजफ्फराबाद को प्रभावित करने की संभावना है. यह 23-24 अक्टूबर के दौरान उत्तर-पश्चिम भारत के आसपास के मैदानी इलाकों पर भी सक्रिय हो सकता है और इसकी वजह से हिमाचल प्रदेश, पंजाब, जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, गिलगित-बाल्टिस्तान और मुजफ्फराबाद में गरज चमक और तेज हवा के साथ ओलावृष्टि और भारी वर्षा की आशंका है.