Weather News Latest Update: मौसम का मिजाज पिछले दो दिनों से बदला-बदला सा लग रहा है. देश की राजधानी दिल्ली में शनिवार को जहां रिकॉर्ड तोड़ बारिश हुई वहीं अन्य कई राज्यों में भी रूक-रूककर बारिश हो रही है. देश की राजधानी दिल्ली में शनिवार को 138.8 मिमी बारिश दर्ज की गई, जिससे शहर के कई हिस्सों में भारी जलभराव की वजह से यातायात बाधित हो गया. मौसम विभाग के मुताबिक ये दिल्ली में 14 साल में एक दिन में सबसे ज्यादा बारिश का रिकॉर्ड है.Also Read - Himachal Weather Forecast: मौसम विभाग ने हिमाचल प्रदेश में 2 दिनों तक भारी बारिश की जताई संभावना, यैलो अलर्ट जारी

वहीं,आज के लिए भी भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने  देश के कई हिस्सों में तेज बारिश का अलर्ट जारी किया है. मौसम विभाग के अनुसार अगले कुछ घंटों में हरियाणा के रोहतक, महम, झज्जर व उत्तर प्रदेश के खतौली, बड़ौत में तेज बारिश हो सकती है और इसके साथ ही राजस्थान के राजगढ़ जिले के आसपास के क्षेत्रों में भी हल्की बारिश होने की आशंका व्यक्त की गई है. Also Read - Weather Update: दिल्ली में ऑारेंज अलर्ट जारी, हरियाणा-यूपी में भी बरसेंगे बादल, जानिए कैसा रहेगा मौसम

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ने अगले 4 से 5 दिनों के दौरान उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, बिहार में भी भारी बारिश की संभावना जताई है और इन राज्यों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है. Also Read - Delhi Weather Forecast: दिल्ली में बारिश को लेकर मौसम विभाग ने जारी किया यैलो अलर्ट, 21-26 सितंबर तक होगी बरसात

मध्य प्रदेश के कई जिलों में आज बारिश होने की चेतावनी जारी की गई है, जिसमें मंदसौर, नीमच, आगर, शाजापुर, झाबुआ, बैतूल, दतिया, भिंड, मुरैना, श्योपुरकलां, नरसिंहपुर और छिंदवाड़ा में रविवार को तेज बारिश हो सकती है. वहीं, इसके साथ ही राज्य के ग्वालियर, उज्जैन और चंबल संभाग के जिलों में भी बारिश की अलर्ट जारी किया गया है.

दक्षिण भारत के तमिलनाडु और पुडुचेरी में भी रविवार को भारी बारिश की संभावना है और इसके साथ ही अगले 5 दिनों तक पूरे दक्षिणी प्रायद्वीप में भारी बारिश होने का अलर्ट जारी किया गया है.

मौसम विभाग के मुताबिक मानसून की ट्रफ लाइन अभी पश्चिमी छोर पर अपनी सामान्य जगह के करीब है, लेकिन पूर्वी छोर सामान्य से अधिक दक्षिण में स्थित है. जैसे-जैसे यह पूर्वी छोर धीरे-धीरे उत्तर की ओर बढ़ेगा, पूर्वोत्तर भारत में अगले सप्ताह बारिश तेज होगी. विभाग के मुताबिक अगले पांच दिनों के लिए, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, अरुणाचल प्रदेश, असम और मेघालय में 200 मिमी से अधिक वर्षा होने की संभावना है.