नई दिल्ली. उत्तरी और पश्चिमी भारत के कुछ हिस्सों में सोमवार की रात और मंगलवार को तड़के हल्की बारिश से लोगों को गर्मी से कुछ राहत मिली. मौसम में आए इस बदलाव की वजह से पारा कई हफ्तों के बाद 40 डिग्री से नीचे आया. हालांकि बिहार सहित कई राज्यों में लू का प्रकोप जारी रहा. बिहार में लू लगने से मरने वालों की संख्या बढ़कर 76 हो गई. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में बादल छाए रहने और तेज हवाएं चलने से पारा नीचे आ गया. दिल्ली में अधिकतम तापमान सामान्य से छह डिग्री कम 33 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. शहर में अलग-अलग स्थानों पर बूंदा-बांदी हुई. मौसम विज्ञानी ने भविष्यवाणी की है कि अगले तीन-चार दिनों तक शहर में इसी तरह का मौसम बना रहेगा और पारा 25 से 35 डिग्री सेल्सियस के बीच रहेगा.

दिल्ली के अलावा उत्तर प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, हरियाणा, राजस्थान और गुजरात के कई हिस्सों में भी हल्की बारिश हुई, जिससे लोगों को प्रचंड गर्मी से कुछ राहत मिली. मौसम विभाग ने मंगलवार को हरियाणा, पंजाब और चंडीगढ़ में कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश की संभावना जताई है. मंगलवार की अहले सुबह दिल्ली और एनसीआर में बारिश के कारण तापमान में काफी गिरावट महसूस की गई. दिल्ली से सटे नोएडा में भी मंगलवार को तड़के हल्की बारिश होने से तापमान में कमी दर्ज की गई.

इस बीच, बिहार में लू लगने के कारण सोमवार को 15 और लोगों की जान चली गई और मृतकों की संख्या बढ़कर 76 हो गई. आपदा प्रबंधन विभाग ने कहा कि लू के कारण औरंगाबाद में 33, गया में 31 और नवादा में 12 लोगों की जान चली गई. बिहार शिक्षा परियोजना परिषद के एक अधिकारी ने कहा कि प्रशासन ने 22 जून तक सभी सरकारी और सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों में कक्षाएं स्थगित करने का आदेश दिया है. पटना, गया और भागलपुर सहित राज्य के प्रमुख शहरों में पिछले कुछ दिनों से भयंकर लू चल रही है. इधर, जम्मू-कश्मीर के बांदीपोरा और गांदरबल जिलों में आकाशीय बिजली गिरने से 18 वर्षीय एक लड़की समेत दो लोगों की मौत हो गई.

(इनपुट – एजेंसी)