Weather Update: उत्तर भारत में सोमवार को गर्मी तथा लू का प्रकोप और बढ़ गया. वहीं राजस्थान के चुरु में पारा 47.5 डिग्री सेल्सियस के करीब पहुंच गया. राष्ट्रीय राजधानी में भी अधिकतम तापमान 46 डिग्री तक पहुंच गया. लोग गर्मी से बेहाल हैं. इस बीच भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने असम और मेघालय में 26 से 28 मई के बीच बहुत भारी बारिश होने की चेतावनी दी है. आईएमडी के राष्ट्रीय मौसम पूर्वानुमान केंद्र की प्रमुख एस देवी ने कहा कि बंगाल की खाड़ी से दक्षिण-पश्चिम हवाओं के तेज प्रवाह के कारण इन दोनों राज्यों में नमी बहुत बढ़ गयी है. इसके अलावा अन्य भौगोलिक वजहों से दोनों राज्यों में बहुत भारी बारिश होगी. Also Read - गुजरात में भारी बारिश; असम में बाढ़ की स्थिति में सुधार, कुछ ऐसा है बाकी जगहों का हाल

विभाग ने कहा कि ज्यादातर स्थानों पर बारिश की संभावना है वहीं कुछ स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा होने का अनुमान है. आईएमडी के महानिदेशक मृत्युंजय महापात्र ने कहा कि असम और मेघालय में अगले तीन दिनों के लिए रेड अलर्ट जारी किया गया है. उन्होंने कहा कि पूर्वोत्तर भारत में अधिकतम बारिश मई में और उसके बाद जून में होती है. Also Read - Delhi Weather Update: झमाझम बारिश से बदला राष्ट्रीय राजधानी का मौसम, गर्मी-उमस से मिली राहत, आज ऐसा रहेगा मानसून का मिजाज

देवी ने कहा कि मानसून की प्रगति चक्रवाती तूफान अम्फान से बाधित हो गयी थी और वह बुधवार से आगे बढ़ेगा. आईएमडी के अनुसार मानसून के सामान्य तिथि से चार दिन बाद पांच जून को केरल पहुंचने की संभावना है. महापात्रा ने कहा कि 30 मई से अरब सागर में कम दबाव का क्षेत्र भी बन रहा है. कम दबाव का क्षेत्र किसी भी चक्रवात का पहला चरण होता है. हालांकि, यह आवश्यक नहीं है कि प्रत्येक कम दबाव क्षेत्र चक्रवात में ही बदल जाए. Also Read - दिल्ली वालों को जल्द मिलेगी गर्मी से राहत! अगले तीन-चार दिन में हो सकती है हल्की बारिश

आईएमडी ने केरल व कर्नाटक के तटों पर मछुआरों को आगाह किया है कि वे 30 मई से चार जून के बीच गहरे समुद्र में नहीं जाएं.

(इनपुट भाषा)