बेंगलुरू: आईपीएस की नौकरी करना देश के लाखों युवाओं का सपना होता है, लेकिन ऐसा पद पाना कुछ के लिए ही नसीब होता  है. अगर किसी का बहुत जल्‍द आईपीएस जैसे रुतबे वाली नौकरी से मन भर जाए और भी  तो ये काफी हैरत वाली बात होगी. ऐसा ही कुछ किया. कर्नाटक के एक भारतीय पुलिस सेवा के अधिकारी के. अन्नामलाई ने. उन्‍होंने मंगलवार को बेंगलुरू साउथ डिवीजन के पुलिस उपायुक्त जैसी हाई-प्रोफाइल नौकरी से इस्तीफा दे दिया.

अन्नामलाई ने एक फेसबुक पोस्ट में कहा, “मैंने भारतीय पुलिस सेवा से अपना इस्तीफा सौंप दिया है. आधिकारिक प्रक्रिया समाप्त
होने में कुछ समय लग सकता है.”

अन्नामलाई ने कहा, “जो लोग मुझे लेकर अनुमान लगा रहे हैं कि आगे मेरे लिए क्या है, उन्हें मैं बताना चाहता हूं कि मैं इतना छोटा आदमी हूं कि बुलंद महत्वकांक्षा नहीं रख सकता.”

उन्होंने लिखा, “मैं बस कुछ समय निकालना चाहता हूं और जीवन में उन छोटी-छोटी चीजों का आनंद लेना चाहता हूं, जिन्हें मैं याद कर रहा था. अपने बेटे के लिए एक अच्छा पिता बनना-जो मेरे हर समय का हकदार है क्योंकि वह तेजी से बड़ा हो रहा है. घर वापस आकर खेती करना और यह देखना कि क्या मेरी भेड़ें क्या अब भी मेरी बात मानती हैं क्योंकि अब मैं कोई पुलिस वाला नहीं हूं.”

2011 में एक युवा आईपीएस अधिकारी के रूप में कर्नाटक में अपनी पोस्टिंग के बाद से अन्नामलाई ने चिकमंगलूर और उडुपी जैसे
राज्य के पश्चिम तटीय जिलों में पुलिस अधीक्षक सहित कई वरिष्ठ पदों पर कार्य किया.