नई दिल्ली: पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा का चुनावी कैंपेन जोर पकड़ने लगा है. अगले कुछ दिनों में भाजपा के कई केन्द्रीय मंत्री ताबड़तोड़ वर्चुअल रैलियों को संबोधित करेंगे. इसकी शुरुआत भाजपा महासचिव भूपेंद्र यादव की बुधबार को हुई एक वर्चुअल रैली से हो गई है. भूपेंद्र यादव ने वर्चुअल रैली को संबोधित करते हुए कहा कि “वाममोर्चा के शासन काल से भी तृणमूल कांग्रेस के शासन में राज्य की स्थिति बदतर हुई है. राज्य में हिंसा का वातावरण है. स्वास्थ्य व शिक्षा के क्षेत्र में बंगाल पिछड़ गया है, जो राज्य कभी देश का अग्रणी राज्य था, आज पिछले पायदान पर पहुंच गया है.” Also Read - सोशल मीडिया में बवाल होने के बाद अब इस राज्य सरकार ने कुत्तों के मांस की बिक्री पर लगाई रोक

भूपेंद्र यादव ने कहा कि “आत्मनिर्भर भारत से देश को नई दिशा मिलेगी. श्रम कानू में परिवर्तन से लोगों को अधिक सुविधाएं मिलेंगी. पूरे देश में किसानों को किसान सम्मान निधि द्वारा राशि दी गई, लेकिन दुर्भाग्यपूर्ण तरीके से बंगाल के किसानों को यह राहत नहीं मिल रही है. इसकी सबसे बड़ी अड़चन तृणमूल की सरकार है.” Also Read - 'सत्ताधारियों और अपराधियों' की मिलीभगत का खामियाजा कर्तव्यनिष्ठ पुलिसकर्मियों को भुगतना पड़ रहा है' : अखिलेश यादव

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल के लिए पहले वर्चुअल रैली की शुरुआत केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी को करनी थी. लेकिन केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक होने की वजह से ईरानी की जगह भाजपा महासचिव सांसद भूपेंद्र यादव ने रैली को संबोधित किया. Also Read - नागालैंड में धड़ल्ले से चल रही है कुत्तों की अवैध तस्करी, मांस सप्लाई को लेकर ट्विटर पर मचा घमासान

पश्चिम बंगाल भाजपा के वरिष्ठ नेता और राज्य भाजपा के पूर्व अध्यक्ष राहुल सिन्हा ने आईएएनएस को बताया कि अगले कुछ दिनों में केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण, केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान, केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद और केंद्रीय संसदीय कार्य राज्यमंत्री अर्जुन राम मेघवाल वर्चुअल रैलियो को संबोधित करेंगे. ये सभी रैलियां अलग-अलग जोन के हिसाब से की जाएंगी. भाजपा की इन रैलियों का प्रसारण फेसबुक, ट्विटर एवं वेबकॉम के माध्यम से किया जाएगा. बूथ व मंडल स्तर के कार्यकर्ताओं को लिंक भेजा जाएगा. सोशल मीडिया से इनका सीधा प्रसारण होगा.

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह की वर्चुअल सभा को पौन तीन करोड़ लोगों ने सुना था. भाजपा उम्मीद कर रही है कि केंद्रीय मंत्रियों की वर्चुअल सभा को एक करोड़ से अधिक लोग सुनेंगे. ऐसे में आगामी 26 जून को केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान, 28 जून को केंद्रीय मंत्री निर्मला सीतारमण, 30 जून को केंद्रीय मंत्री अर्जुन मेघवाल एवं दो जुलाई को रविशंकर प्रसाद वर्चुअल सभा को संबोधित करेंगे.