नई दिल्‍ली: पश्चिम बंगाल बीजेपी ने भाजपा विधायक देवेन्द्र नाथ रे की मौत के विरोध में आज नॉर्थ बंगाल के जिलों में 12 घंटे का बंद बुलाया है. बीजेपी विधायक का शव सोमवार को उनके गांव के घर के पास लटका मिला था. मंगलवार को बंद के ये फोटोज सिलीगुड़ी और रायगंज से सामने आए हैं. रे की मौत के मामले पर भाजपा ने इसे ”टीएमसी के गुंडों” द्वारा हत्या करार देते हुए उत्तरी दिनाजपुर जिले में मंगलवार सुबह छह बजे से 12 घंटे के बंद का आह्वान किया है. Also Read - Bihar Polls 2020: बिहार में पहले चरण के चुनाव प्रचार का आज आखिरी दिन, कई दिग्गजों की रैलियां- मतदान 28 को...

भाजपा नेता का शव घर के पास लटका मिला था, पार्टी ने हत्या का आरोप लगाया
बता दें कि उत्तरी दिनाजपुर जिले में पश्चिम बंगाल विधानसभा के एक विधायक सोमवार को अपने घर के पास संदिग्ध परिस्थितियों में मृत मिले थे . उनके परिवार और भाजपा ने उनकी हत्या होने का दावा करते हुए सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) को इसके लिये जिम्मेदार ठहराया. पुलिस ने कहा कि देबेंद्र नाथ रे का शव जिले के हेमताबाद इलाके के बिंदल गांव में उनके घर के निकट एक दुकान के बाहर बरामदे की छत से लटकता मिला. उनकी उम्र करीब 65 साल थी. Also Read - भाजपा का बड़ा आरोप, कांग्रेस ने जमात-ए-इस्लामी, पीएफआई जैसे संगठनों से समझौते किए

परिवार और प्रदेश भाजपा इकाई ने मामले की सीबीआई जांच की मांग की
रे ने हेमताबाद की अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित सीट से माकपा के टिकट पर विधानसभा चुनाव में जीत दर्ज की थी, लेकिन पिछले साल लोकसभा चुनाव के बाद वह भाजपा में शामिल हो गए थे. हालांकि, उन्होंने माकपा से विधायक के तौर पर इस्तीफा नहीं दिया था. उनके परिवार और प्रदेश भाजपा इकाई ने मामले की सीबीआई जांच की मांग की है. पश्चिम बंगाल पुलिस ने कहा कि उनकी शर्ट की जेब से एक सुसाइड नोट मिला है, जिसमें उन्होंने अपनी मौत के लिए दो लोगों पर आरोप लगाया है.

जांच सीआईडी को सौंप दी गई है
पुलिस सूत्रों के मुताबिक मामले की जांच सीआईडी को सौंप दी गई है, यद्यपि इस संबंध में आदेश सार्वजनिक किया जाना बाकी है. भाजपा नेता के परिवार ने मामले में सीबीआई जांच की मांग करते हुए हत्या की आशंका जताई थी. परिवार के एक सदस्य ने कहा, हमें लगता है कि यह हत्या है. इसकी सीबीआई जांच होनी चाहिए.