कोलकाता: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि कुछ लोग उन्हें कुर्सी से हटाने की बात कर रहे हैं. शुक्रवार को ममता बनर्जी ने कहा कि बंगाल COVID19 और साजिश दोनों के खिलाफ जीतेगा. Also Read - 2036 तक रूस के राष्ट्रपति बने रहेंगे व्लादिमीर पुतिन, पीएम मोदी ने फोन कर दी बधाई, कहा- सामरिक संबंध करेंगे और मजबूत

उन्होंने कहा, “मुझे वास्तव में बुरा लगता है कि जब हम COVID19 और Amphan के खिलाफ लड़ रहे हैं और जान बचाने के लिए काम कर रहे हैं, तो कुछ राजनीतिक दल हमें हटाने के लिए कह रहे हैं. मैंने कभी नहीं कहा कि पीएम मोदी को दिल्ली से हटा दिया जाए.” Also Read - पीएम मोदी ने चीन की सोशल नेटवर्किंग साइट 'वीबो' को छोड़ा, लगभग सभी पोस्ट की डिलीट

ममता बनर्जी ने आहे कहा, “क्या यह राजनीति करने का समय है? पिछले तीन महीनों से वे कहां थे? हम जमीन पर काम कर रहे थे. बंगाल #COVID19 और साजिश दोनों के खिलाफ जीतेगा.” Also Read - ‘प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना’ का विस्तार प्रधानमंत्री मोदी की संवेदनशीलता दिखाती है: अमित शाह

बता दें कि दो व्यक्तियों की बर्दवान विश्वविद्यालय के प्रति कुलपति के रूप में नियुक्ति से उत्पन्न विवाद के बाद पश्चिम बंगाल सरकार के साथ नये टकराव की ओर बढ़ते हुए नजर आ रहे राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने बुधवार को कहा कि उन्होंने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से बात की है और वह इस मुद्दे पर पूर्णविराम चाहते हैं.

जुलाई, 2019 में पदभार ग्रहण करने के बाद तृणमूल कांग्रेस सरकार के साथ कई बार टकराव ले चुके धनखड़ ने संवाददाता सम्मेलन में कहा,‘‘ मैंने आज सुबह ममता बनर्जी से फोन पर बात की थी. राज्य संकट से गुजर रहा है और मैं चाहता हूं कि यह (प्रति कुलपति की नियुक्ति) का मसला सुलझ जाए. मैं इस विवाद को खत्म करना चाहता हूं.’’

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार को उन आरोपों को खारिज किया, जिनमें कहा गया कि उनकी सरकार प्रवासी मजदूरों को वापस लाने की इच्छुक नहीं थी. ममता ने कहा कि राज्य सरकार अब तक देश के विभिन्न हिस्सों से 8.5 लाख लोगों को वापस लायी है. उन्होंने कहा कि 10 जून तक 10.5 लाख प्रवासियों को वापस राज्य में लाया जाएगा.