West Bengal Elections: गृहमंत्री अमित शाह का पश्चिम बंगाल का दौरा भले ही स्थगित हो गया हो, मगर दिल्ली में बैठकर ही चले गए उनके दांव से मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को एक बार फिर बड़ा झटका लगा है. कोलकाता से विशेष फ्लाइट से दिल्ली पहुंचे तृणमूल कांग्रेस के तीन बागी विधायकों सहित पांच नेता गृहमंत्री अमित शाह की मौजूदगी में भाजपा में शामिल हो गए हैं.Also Read - योगी आदित्यनाथ के राज में अब नए मदरसों को नहीं मिलेगी सरकारी मदद, कैबिनेट बैठक में लिया गया फैसला

बताया जा रहा है कि रविवार को हावड़ा में होने वाली स्मृति ईरानी की रैली में सभी पांचों नेता भाजपा का मंच शेयर करेंगे. दरअसल, गृहमंत्री अमित शाह का 30 और 31 जनवरी को पश्चिम बंगाल का दौरा करना था. इस दौरान तृणमूल कांग्रेस सरकार में मंत्री पद से इस्तीफा देने वाले राजीव बनर्जी सहित पांच नेताओं के भाजपा में शामिल होने का कार्यक्रम तय था. Also Read - कैलाश विजयवर्गीय बोले- ज्ञानवापी मस्जिद विवाद जैसे धार्मिक मसले भाजपा नहीं बल्कि जनता उठा रही है

मगर, दिल्ली में बम ब्लास्ट और किसानों के आंदोलन को देखते हुए गृहमंत्री अमित शाह का ऐन वक्त पर दौरा स्थगित हो गया था. बावजूद इसके तृणमूल कांग्रेस के बागी नेताओं की ज्वाइनिंग पर कोई असर नहीं पड़ा. Also Read - ट्रैफिक जाम में फंसे अफसर ने सफाईकर्मी को मारा थप्पड़, वीडियो वायरल होने पर CM हेमंत सोरेन ने दिया कार्रवाई का आदेश

राष्ट्रीय महासचिव और राज्य के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय और राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मुकुल रॉय तृणमूल कांग्रेस के पांचों नेताओं को कोलकाता से सायं चार बजे की विशेष फ्लाइट से लेकर दिल्ली पहुंचे. इसके बाद सभी नेता गृहमंत्री अमित शाह के आवास पर पहुंचे और भाजपा में शामिल हुए.

इन नेताओं में ममता सरकार में मंत्री पद से इस्तीफा देने वाले विधायक राजीब बनर्जी, प्रवीर घोषाल और वैशाली डालमिया प्रमुख हैं. वहीं हावड़ा के पूर्व मेयर रथिन चक्रवर्ती और पार्थसारथी भी भाजपा में शामिल हुए हैं.

(इनपुट आईएएनएस)