कोलकाता: पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने सोमवार को बैरकपुर से भाजपा सांसद अर्जुन सिंह को देखने गए जो एक निजी अस्पताल में भर्ती हैं. इसके साथ ही राज्यपाल ने राज्य में कानून व्यवस्था की स्थिति पर चिंता भी व्यक्त की. बीते रविवार सिंह को अपने निर्वाचन क्षेत्र में झड़प के दौरान सिर में चोटें आई थीं जिसकी वजह से वह अस्पताल में भर्ती हैं. हमले के समय समाचार एजेंसी एएनआई द्वारा जारी की गई तस्वीरों में उनकी कार के शीशे टूटे हुए और वे खुद सिर पर पट्टी बांधे हुए दिख रहें थे. उनकी शर्ट पर खून भी लगा हुआ था.

सांसद ने दावा किया कि बैरकपुर के पुलिस आयुक्त मनोज वर्मा ने उन पर हमला किया जिससे उनके सिर में चोट आई. वह उस समय अपने समर्थकों के साथ तृणमूल कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा पार्टी कार्यालय पर कथित रूप से कब्जा करने के खिलाफ जिले के कांकीनारा में ‘‘शांतिपूर्ण तरीके प्रदर्शन’’ कर रहे थे. धनखड़ ने सिंह से मिलने के बाद संवाददाताओं से कहा कि यह सुनिश्चित करने के लिए कि ‘‘सभी लोग अनुशासित तरीके से कार्य करें’’, एक प्रणाली अवश्य होनी चाहिए.

राज्यपाल ने कहा कि वह दिल्ली में थे और अर्जुन सिंह से मिलने के लिए उन्होंने अपनी यात्रा बीच में ही छोड़ दी. उन्होंने इस घटना को लेकर चिंता जताई. राज्यपाल के रूप में शपथ लेने के बाद उन्होंने पहली बार राज्य में कानून और व्यवस्था की स्थिति पर टिप्पणी की है. उन्होंने कहा, ‘‘ऐसी हिंसा को देखकर दुख होता है. जब शिक्षकों, डॉक्टरों, वकीलों और पत्रकारों को कुछ होता है तो मुझे दुख होता है.’’ लोकसभा चुनावों के बाद पश्चिम बंगाल में हिंसा की कई घटनाएं हुई हैं.