कोलकाता: पश्चिम बंगाल सरकार ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के सम्मान में शैक्षणिक संस्थानों और सरकारी कार्यालयों में आधे दिन की छुट्टी की घोषणा की है. पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का निधन 16 अगस्त की शाम 93 साल की उम्र में हो गया था. अटल की लोकप्रियता उनकी दलगत पहचान से बहुत ऊपर थी. वो सभी के प्रिय थे, सभी उनके मित्र थे इसलिए उन्हें अजातशत्रु भी कहा जाता है. Also Read - साउथम्पटन टेस्ट: जैक क्राउली के अर्धशतक की मदद से इंग्लैंड ने हासिल की 170 रनों की बढ़त

अपराह्न से बंद रहेंगे सरकारी उपक्रम
उनकी मृत्यु से एक युग का अवसान हो गया. समूचे राष्ट्र के लिए एक अपूरणीय क्षति है. पश्चिम बंगाल सरकार द्वारा देर रात जारी की गई अधिसूचना को उद्धृत करते हुए एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि पूर्व प्रधानमंत्री के निधन के चलते सभी सरकारी उपक्रम, शहरी और स्थानीय निकाय, कार्यालय, सरकार के सहयोग से चलने वाले स्कूल और कॉलेज आज दो बजे के बाद बंद रहेंगे. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी कल शाम दिवंगत नेता को श्रद्धांजलि देने के लिए कोलकाता से दिल्ली गई थीं. वाजपेयी के निधन को ममता ने देश के लिए एक बड़ी क्षति बताया. Also Read - Kerala Gold Smuggling: स्वप्ना और उसके सहयोगी को NIA ने किया गिरफ्तार, 30 किलो सोने की तस्करी का चल रहा मामला

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर केंद्र सरकार ने सात दिन के राष्ट्रीय शोक की घोषणा की है. इस दौरान राष्ट्रीय ध्वज झुका रहेगा. सभी सरकारी कार्यक्रम भी रद्द कर दिए गए हैं. दिल्ली, यूपी, हरियाणा, पंजाब, मध्य प्रदेश और उत्तराखंड समेत 12 राज्यों ने सभी सरकारी विभागों में अवकाश घोषित कर दिया है उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सात दिनों के राजकीय शोक की घोषणा की है. इस दौरान सभी राष्ट्रीय भवनों पर लगे तिरंगे आधे झुके रहेंगे. वहीं, शुक्रवार को राजकीय अवकाश की घोषणा की गई है. शुक्रवार को सरकारी ऑफिस, बैंक और सभी स्कूल बंद रहेंगे. दिल्ली एनसीआर, गाजियाबाद, हापुड़ और मेरठ में भी सरकारी संस्थान और स्कूल बंद रहेंगे.