कोलकाता: पश्चिम बंगाल के पंचायत चुनाव में पुरानी परिपाटी को तोड़ते हुए नौ उम्मीदवारों ने वाट्सऐप के माध्यम से अपना नामांकन दायर किया. कलकत्ता हाई कोर्ट को यह जानकारी दी गई. राज्य चुनाव आयोग के सचिव नीलांजन शांडिल्य ने अदालत से कहा कि वट्सऐप के माध्यम से भेजे गये नामांकन स्वीकार कर लिए गए हैं.अदालत ने मंगलवार को आयोग को दक्षिण 24 परगना जिले में भांगर की पोलरहाट द्वितीय ग्राम पंचायत के 11 उम्मीदवारों के लिए नामाकंन करने का प्रबंध करने का निर्देश दिया था क्योंकि इन उम्मीदवारों ने दावा किया था कि उन्हें सशस्त्र गुंडे नामांकन संबंधी कार्यालय तक पहुंचने नहीं दे रहे हैं. Also Read - How to record WhatsApp call: ऐसे रिकॉर्ड कर सकते हैं WhatsApp कॉल, बड़े काम की है ये ट्रिक

Also Read - WhatsApp Advanced Search: WhatsApp में आया शानदार फीचर और कई नए इमोजी, मजेदार होगी चैटिंग

कर्नाटक चुनावः ‘लिंगायत समुदाय अब येदियुरप्पा को नहीं मानता अपना नेता’ Also Read - WhatsApp New Features: WhatsApp में आए कई शानदार फीचर, जानें पूरी डीटेल

याचिकाकर्ता शर्मिष्ठा चौधरी ने न्यायमूर्ति सुब्रत तालुकदार की अदालत से कहा कि 11 में नौ उम्मीदवारों ने वाट्सऐप के माध्यम से नामांकन दायर किया. याचिकाकर्ता ने कहा कि उम्मीदवारों ने नामांकन पत्रों का फोटो खींचकर उन्हें वाट्सऐप के माध्यम से भेजा क्योंकि अलीपुर सर्वे भवन पर उनसे बुरा व्यवहार किया गया था और उनके कागजात छीन लिए गए थे. आयोग ने उन्हें इसी इमारत पर नामांकन दाखिल करने के लिए जाने को कहा था.

बीजेपी के सीएम फेस येदियुरप्पा के सामने विरोधी नहीं, अपनों को मात देने की है सबसे बड़ी चुनौती

दूसरी ओर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने का कहना है कि पंचायत चुनाव में नामांकन भरने के दौरान हिंसा की रिपोर्ट को विपक्षी दलों और एक मीडिया हाउस ने ‘बढ़ा चढ़ाकर’ पेश किया. ममता ने कहा कि नामांकन भरने के दौरान केवल आठ से नौ घटनाएं सामने आई हैं. इसमें चार लोग मारे गए है और सभी तृणमूल कांग्रेस से संबंध रखते हैं.

उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी हिंसा नहीं चाहती है और दावा किया कि उनकी सरकार के खिलाफ विपक्षी दलों ने ‘ बेबुनियाद खबर को फैलाने ’ का काम किया. एक निजी चैनल से बात करते हुए उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी शांति चाहती है. विपक्षी दल उनकी सरकार के खिलाफ षड्यंत्र कर रहे हैं. एक मीडिया हाउस भी सरकार की छवि को बदनाम करने के लिए काम कर रहा है.