कोलकाता। पश्चिम बंगाल में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों में हुए चुनाव में भारी जीत की ओर बढ़ रही है. अब तक घोषित नतीजों के अनुसार तृणमूल ग्राम पंचायतों में 19,394 सीटें जीत चुकी हैं. दूसरे स्थान पर बीजेपी है लेकिन उसकी सीटों की संख्या तृणमल की तुलना में काफी कम है. हालांकि वामदलों को धकेलकर दूसरे नंबर पर आना बीजेपी की बड़ी उपलब्धि है.

बीजेपी का भी बजा डंका

राज्य चुनाव आयोग सूत्रों ने बताया कि तृणमूल 560 ग्राम पंचायत सीटों पर आगे चल रही है. बीजेपी ने 5050 सीटें जीती हैं और वह 55 सीटों पर आगे चल रही है. कई सालों में यह पहला मौका है जब भाजपा ने हर जिले में ग्राम पंचायत स्तर पर जीत हासिल की है. 1992 में बाबरी मस्जिद गिराए जाने के बाद भाजपा ने ग्रामीण चुनावों में अपनी उपस्थिति दर्ज करायी थी.

प. बंगाल पंचायत चुनाव में हिंसा का तांडव, 8 की मौत, गृह मंत्रालय ने तलब की रिपोर्ट

माकपा तीसरे स्थान पर आ गयी है. पिछली बार वह दूसरे नंबर पर थी. सूत्रों के अनुसार उसे 1306 ग्राम पंचायतों में जीत मिली है और वह 27 में आगे है. कांग्रेस चौथे नंबर पर है और उसे 918 सीटों पर कामयाबी मिली है और 29 सीटों पर आगे चल रही है.

तृणमूल ने पंचायत समिति और जिला परिषद के चुनावों में भी शानदार प्रदर्शन किया है और अन्य दलों से काफी आगे चल रही है. सियासी रस्साकशी और कोलकाता हाई कोर्ट और सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के दौर के बीच राज्य में चुनाव को हरी झंडी मिली थी. राज्य में भारी हिंसा के बीच मतदान हुआ था. इसमें 8 लोगों की मौत हुई थी. नामांकन के दौरान भी हिंसा हुई थी .