उरी आतंकी हमले के बाद भारत का बड़ा रिएक्शन देखने को मिला। भारतीय सेना ने बड़ी कार्रवाई करते हुए सरहद के उस पार जाके सर्जिकल स्ट्राइक किया। भारतीय सेना ने बहादुरी का परचम लहराते हुए बड़ी कार्रवाई की।

सेना ने बीती रात आतंकियों के 7 ठिकानों पर सर्जिकल स्ट्राइक करके कई आतंकवादियों को ढेर कर दिया। भारतीय डीजीएमओ की ओर से प्रेस कॉन्फ्रेंस करके गुरुवार को यह जानकारी दी गई। यह भी पढ़ें: सर्जिकल स्ट्राइक: सेना के ऑपरेशन की रातभर निगरानी करते रहे रक्षा मंत्री, अजीत डोभाल और सेना प्रमुख

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक भारतीय सेना ने पाकिस्तानी सीमा  में बने सात आतंकी शिविरों को सर्जिकल हमलों में निशाना बनाया। बताया जा रहा है कि यह अभियान हेलीकॉप्टर और जमीनी बलों की मदद से चलाया गया।

यह ऑपरेशन साढ़े 12 बजे रात में शुरु हुआ और सुबह साढे चार बजे तक चलता रहा। इस दौरान अभियान में शामिल जवान नियंत्रण रेखा के उस पार करीब दो किलोमीटर तक रेंगेते हुए आतंकी ठिकानों तक पहुंचे।

ये पूरा ऑपरेशन 2-3 किलोमिटर के इलाके में चलाया गया। यह भी पढ़ें: लाइव अपडेट: एलओसी पर भारत की सर्जिकल स्ट्राइक’, POK में घुसकर भारतीय सेना का ऑपरेशन

Indian Army Photo by Zee News

बताया जा रहा है कि इस सर्जिकल स्ट्राइक में करीब 35 आतंकियों को मार गिराया गया। ऑपरेशन को अंजाम देने वाले भारतीय कमांडो एक-एक कर हेलीकॉप्टर से उतरे और रेंगते हुए टारगेट तक पहुंचे। सिग्नल मिलते ही भारतीय सैनिको ने एक-एक कर आतंकवादियों के सभी सात शिविरों को निशाना बनाया और करीब 35 आतंकियों को ढेर कर दिया।

सर्जिकल स्ट्राइक का मतलब

भारतीय सेना की कार्रवाई के बाद से ही ये खबर आ रही है कि सेना द्वारा किया गया सर्जिकल स्ट्राइक। लेकिन इस शब्द का मतलब बहुत ही कम लोग समझ पाते हैं। जब किसी भी सीमित क्षेत्र में सेना दुश्मनों और आतंकियों को नुकसान पहुंचाने और उन्हें मार गिराने के लिए सैन्य कार्रवाई करती है तो उसे सर्जिकल स्ट्राइक कहा जाता हैं।

दरअसल जहां भी सर्जिकल स्ट्राइक किया जाता है वहां के बारे में पहले सारी पुख्ता जानकारी जुटाई जाती है। उसके बाद इसको अंजाम तक पहुंचाने के लिये समय तय किया जाता है कि सर्जिकल स्ट्राइक कब करना है। सबसे खास बात इस अभियान की जानकारी बेहद गोपनीय रखी जाती है जिसकी जानकारी सिर्फ चुनिंदा लोगों को ही होती है।

सर्जिकल स्ट्राइक में इस बात का खास ध्यान रखा जाता है कि जिस जगह या इलाके में आतंकी या दुश्मन छिपे हुए हैं सिर्फ उसी जगह को निशाना बनाया जाए या फिर स्ट्राइक किया जाए और इससे बाकी लोगों यानी नागरिकों को किसी भी तरह का कोई नुकसान नहीं पहुंचे इस बात का भी ध्यान रखा जाता है।

भारतीय सेना ने जो सर्जिकल स्ट्राइक किया है उसमें भी यही हुआ है। सेना ने सिर्फ आतंकी ठिकानों को निशाना बनाया। कार्रवाई में कई आतंकी मारे गए है। सूत्रों के मुताबिक मिली जानकारी के अनुसार सरहद के उस पार हुए इस सर्जिकल स्ट्राइक भारतीय सेना के स्पेशल कमांडों दस्ते ने अंजाम दिया है।