दिल्ली: देश के अधिकांश राज्यों में सितंबर माह से स्कूल खुल रहे हैं. ऐसे में छात्रों के साथ साथ शिक्षकों एवं गैर शिक्षक कर्मचारियों की सुरक्षा के मद्देनजर केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय ने एक महत्वपूर्ण बैठक हुई. केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय ने सभी राज्यों को सितंबर महीने में सभी शिक्षण और गैर शिक्षण कर्मचारियों के लिए टीकाकरण की पहली खुराक पूरी करने को कहा है. केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय की स्कूल शिक्षा सचिव अनीता करवाल ने कहा कि राज्य और केंद्र शासित प्रदेश सभी टीचिंग और नॉन टीचिंग स्टाफ के टीकाकरण के लिए जिला स्तर पर संयुक्त रूप से रोड मैप तैयार करेंगे.Also Read - Corona Vaccine: देश में अब तक 85 करोड़ लोगों को कोरोना वैक्सीन लगी, स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताए आंकड़ें

सचिव, स्कूल शिक्षा और साक्षरता अनीता करवाल ने स्कूल सुरक्षा पर एनडीएमए दिशानिर्देशों पर 31 अगस्त को एक बैठक की. बैठक के दौरान स्कूलों में टीचिंग और नॉन टीचिंग स्टाफ के टीकाकरण से जुड़े मुद्दों पर भी चर्चा की गई. Also Read - गोवा जाने का प्लान बना रहे हैं तो पढ़ लें ये खबर, राज्य सरकार ने होटलों को दिए हैं खास निर्देश

चर्चा के दौरान स्कूल शिक्षा और साक्षरता विभाग (डीओएसईएल) के सचिव ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को सितंबर 2021 के महीने के दौरान सभी शिक्षण और गैर शिक्षण कर्मचारियों के लिए टीकाकरण की पहली खुराक पूरी करने की सलाह दी. उन शिक्षण और गैर शिक्षण कर्मचारियों को जो पहली खुराक पहले ही प्राप्त कर चुके हैं, दूसरी खुराक के लिए सख्ती से पालन किया जाना चाहिए. Also Read - अमेरिका में कोविड-19 सम्मेलन: PM मोदी ने कहा- भारत में 20 करोड़ लोगों का पूरी तरह टीकाकरण हुआ, दुनिया की मदद भी की

इसके अलावा सचिव, डीओएसईएल ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के स्वास्थ्य और शिक्षा सचिवों को सभी शिक्षण और गैर-शिक्षण कर्मचारियों के टीकाकरण के लिए जिला स्तर पर संयुक्त रूप से एक रोड मैप तैयार करने की सलाह दी. स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग भी ट्रैकर के माध्यम से राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से साप्ताहिक आधार पर शिक्षकों के टीकाकरण की जानकारी प्राप्त कर रहा है.

गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने देशभर में शिक्षकों के वैक्सीनेशन हेतु विशेष अभियान चलाने का फैसला किया है. इस महीने तय वैक्सीन उपलब्ध करवाने की योजना के अतिरिक्त राज्यों को 2 करोड़ से ज्यादा वैक्सीन की डोज उपलब्ध कराई जा रही हैं. केंद्र सरकार ने सभी राज्यों से अनुरोध किया है कि 5 सितंबर को मनाये जाने वाले शिक्षक दिवस से पहले सभी स्कूली शिक्षकों को प्राथमिकता देकर वैक्सीन लगाने का प्रयास करें.

दिल्ली में भी 1 सितंबर से स्कूल फिर से खोलने का फैसला लिया गया है. पहले चरण में 1 सितंबर से 9वीं से 12वीं कक्षा के छात्रों के लिए स्कुल खोले जाएंगे. वहीं कक्षा 6 से 8 तक के लिए 8 सितंबर से स्कूल खोल दिए जाएंगे. दिल्ली आपदा प्रबंधन अथॉरिटी यानी डीडीएमए की बैठक में यह फैसला लिया गया.