Latest Advice On Drinking Alcohol Before Or After Covid Vaccine: देश में कोरोना की दूसरी लहर का कहर जारी है. भारत में रोजाना 3-4 लाख से ज्यादा सामने आए रहे हैं. हर दिन कोरोना को लेकर कुछ न कुछ नया सुनने को आता रहता है. हाल में ऐसी अफवाहें थी कि शराब पीने से कोरोना वायरस नहीं होता. वहीं, शराब पीने वालों के मन में इस बात की भी जिज्ञासा है कि कोरोना वैक्सीन लेने से पहले या बाद में कब तक शराब नहीं पीनी चाहिए? कोविड पर पंजाब की विशेषज्ञ समिति के प्रमुख डॉ. केके तलवार ने इसे लेकर जानकारी दी. डॉक्टर तलवार ने कहा कि वैज्ञानिक पर्यवेक्षण के आधार पर यह अनुशंसा की जाती है कि लोगों को कोविड रोधी टीका (Covid Vaccine) लगवाने से 2 दिन पहले और 2 दिन बाद तक शराब के सेवन से बचना चाहिए.Also Read - कोरोना के तेजी से बढ़ते मामलों के बीच DGCA ने हवाई पैसेंजर्स के लिए जारी की 'गाइडलाइंस', मास्क नहीं लगाने पर होगी कार्रवाई

इस दौरान डॉक्टर तलवार ने शराब और कोरोना से जुड़ी अफवाहों पर भी बात की. डॉ. केके तलवार ने बुधवार को लोगों से सोशल मीडिया पर चल रही उन अफवाहों पर ध्यान न देने को कहा जिनके मुताबिक शराब कोरोना वायरस (Does alcohol protect against coronavirus?) से सुरक्षा प्रदान कर सकती है. Also Read - Delhi में कोरोना पॉजिटिविटी दर 20 फीसदी के करीब, बढ़ते मामलों के बीच LG की अपील- 'महामारी अभी खत्म नहीं हुई है इसलिए...'

उन्होंने कहा कि ज्यादा शराब पीने से लोगों की रोग प्रतिरोधक क्षमता कम हो सकती है और इससे उनके संक्रमित होने का खतरा बढ़ सकता है. तलवार ने कहा कि उन्होंने सोशल मीडिया पर पढ़ा कि शराब का सेवन वायरस के खिलाफ सुरक्षा प्रदान कर सकता है. उन्होंने कहा, ‘इस तरह की गलत धारणा से गंभीर समस्या पैदा हो सकती है.’ Also Read - भारत में नए COVID-19 केसों में गिरावट, पिछले 24 घंटे में 8813 मामले; एक्टिव केस भी हुए कम

उन्होंने कहा, ‘अगर लोग ज्यादा मात्रा में शराब का सेवन करेंगे तो उनके संक्रमित होने का खतरा ज्यादा रहता है.’ तलवार ने बताया कि यह सुझाव गलत है कि शराब के सेवन से कोरोना वायरस मर सकता है. उन्होंने हालांकि कहा कि बहुत कम मात्रा में शराब के सेवन से कोई नुकसान नहीं है.

उधर, देश में गुरुवार यानी 6 मई को कोरोना के अब तक के सबसे ज्यादा नए मामले सामने आए. देश में बीते 24 घंटे में कोरोना के 4,12262 नए मामले सामने हैं और इस दौरान 3980 लोगों की जान चली गई. मौतों की संख्या भी अबतक की सबसे ज्यादा है. इसके साथ देश में कोरोना के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 2,10,77,410 हो गई है. वहीं जान गंवाने वालों का आंकड़ा बढ़कर 2,30,168 हो गया है.