नई दिल्ली: रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष विनोद कुमार यादव ने सोमवार को कहा कि संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शनों के दौरान देश भर में रेलवे की 80 करोड़ रुपए की संपत्ति को नुकसान पहुंचा और इसकी भरपाई आगजनी एवं हिंसा में संलिप्त पाए गए लोगों से की जाएगी.

यादव ने कहा, संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के विरोध में हुए प्रदर्शनों के दौरान रेलवे की 80 करोड़ रुपए की संपत्ति का नुकसान हुआ. इसकी क्षतिपूर्ति उन लोगों से की जाएगी जो आगजनी एवं हिंसा में संलिप्त पाए गए हैं.

सीएए और प्रस्तावित राष्ट्रव्यापी एनआरसी के खिलाफ देश भर में हिंसक प्रदर्शन हुए, जिस पर पुलिस को हिंसा रोकने के लिए सख्त कदम उठाने पड़े.

रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष विनोद कुमार यादव ने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के दौरान नुकसान की लागत लगभग 80 करोड़ रुपए है, जिसमें से 70 करोड़ रुपए पूर्वी रेलवे के हैं और 10 करोड़ रुपये नॉर्थ फ्रंटियर रेलवे का है.