नई दिल्लीः चीन से शुरू हुआ खतरनाक वायरस(corona virus) कोरोना अब तक लगभग 90 से अधिक देशों में फैल चुका है. विश्व स्वास्थ संगठन(WHO) ने अब इस खतरनाक वायरस से होने वाली बिमारी को महामारी घोषित कर दिया है. भारत सरकार ने अब इससे बचने लिए एक और कदम उठाया है. सरकार ने विदेश से आने वाले नागरिकों के वीजा संस्पेंड कर दिए हैं और साथ ही अपने नागरिकों को यह संदेश दिया है कि जरूरत न हो तो विदेश यात्रा से बचें. Also Read - ओडिशा में कोविड-19 के 15 नए मामले, राज्य में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 20 हुई

बता दें कि कोरोना वायरस भारत में भी लगातार फैलता जा रहा है. अब तक इसके कुल 60 मामले आ चुके हैं. संक्रमण के मामलों में वृद्धि के बीच भारत ने मंगलवार को तीन और देशों के नागरिकों के देश में प्रवेश पर अस्थाई रूप से रोक लगा दी है. इसमें फ्रांस जर्मनी और स्पेन शामिल है. फ्रांस, जर्मनी और स्पेन से आने वाले उन नागरिकों के नियमित एवं ई-वीजा पर रोक लगा दी गई है जिन्होंने अभी तक भारत में प्रवेश नहीं किया है. अब भारत आने के लिए केवल राजनायिकों और यूएन कर्मचारियों को ही वीजा दिया जाएगा. Also Read - Coronavirus Effect: एयर इंडिया ने 30 अप्रैल तक राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय उड़ानों की बुकिंग रद्द की

संक्रमण से बचन के लिए एयर इंडिया ने 28 मार्च तक इटली और 25 मार्च तक दक्षिण कोरिया की सभी उड़ानें रद्द कर दी हैं. एक सरकारी अधिसूचना में कहा गया है कि भारत में अब तक प्रवेश नहीं करने वाले फ्रांस, जर्मनी और स्पेन के ऐसे नागरिक जिनका नियमित और ई वीजा अब तक जारी हो चुका है उसे तत्काल प्रभाव से निलंबित किया जाता है. Also Read - पुलिसकर्मियों और डॉक्टरों पर पत्थर फेंके जाने से दुखी हैं एथलीट हिमा दास, PM को बताया

बता दें कि नब्बे से अधिक देशों में कोरोना वायरस से 1,10,041 लोग संक्रमित पाए गए हैं और इससे 3,825 लोगों की मौत हुई है. ईरान में लगभग 2,000 भारतीय रह रहे हैं, जहां सात हजार लोग इस वायरस से संक्रमित पाए गए हैं और 237 लोगों की मौत हुई है. अब तक 8,255 उड़ानों से आए 8,74,708 अंतरराष्ट्रीय यात्रियों की हवाईअड्डों पर जांच की गई है जिनमें से 1,921 यात्रियों में लक्षण नजर आए थे..