कर्नाटक में इसी साल अप्रैल में विधानसभा चुनाव होने हैं. इन चुनावों के लिए कांग्रेस-बीजेपी दोनों ने कमर कस ली है. चुनावों से पहले नेताओं की बयानबाजी भी शुरू हो गई है. हाल ही में कांग्रेस की सोशल मीडिया प्रमुख और कर्नाटक की पार्टी नेता दिव्य स्पंदना रम्या ने आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा और सवाल किया कि क्या वह ‘‘पीओटी’’(नशे में) पर हैं. बीजेपी की ओर से इस पर तीखी प्रतिक्रिया जतायी गई और पार्टी ने इसे घटिया और जनता का ‘‘अपमान’’ बताया. Also Read - भाजपा सरकार की न तो नीतियां सही हैं, नीयत, योगी राज में विकास का पहिया थम गया है : अखिलेश

रम्या ने मोदी पर यह निशाना प्रधानमंत्री द्वारा कर्नाटक में एक रैली में वह टिप्प्णी करने के बाद साधा जिसमें उन्होंने कहा कि किसान उनकी शीर्ष प्राथमिकता हैं. मोदी ने अंग्रेजी के ‘टीओपी’ को टोमैटो (टमाटर), अनियन (प्याज) और पोटैटो (आलू) के तौर पर उल्लेखित किया. Also Read - एकनाथ खडसे ने भाजपा छोड़ कहा- देवेंद्र फडणवीस ने मेरा जीवन बर्बाद किया, NCP में शामिल होऊंगा

रम्या ने ट्वीट किया, ‘‘क्या ऐसा तब होता है जब आप ‘पीओटी’ पर होते हैं. (गांजे के नशे में होते हैं.)’’ Also Read - वादा तेरा वादा.....बिहार चुनाव में लगी वादों की झड़ी, किस पार्टी ने जनता से क्या की है प्रॉमिस, जानिए

बीजेपी ने रम्या पर शब्दों के चयन को लेकर पलटवार किया. बीजेपी प्रवक्ता जी वी एल नरसिम्हा राव ने ट्वीट किया, ‘‘देश के अधिकतर लोग और हमारी पार्टी के सदस्य (प्रधानमंत्री सहित) यह नहीं जानते कि आप किस संबंध में उल्लेख कर रही हैं लेकिन आपके नेता इसे तुरंत पकड़ लेंगे. आपने अपनी घटिया टिप्पणी से भारत के लोगों का अपमान किया है, लेकिन आपके नेता को आप पर गर्व होगा.’’

बीजेपी के आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने कहा कि कर्नाटक में 3500 से अधिक किसानों ने आत्महत्या की है जो कि भारत में सबसे अधिक है लेकिन उनके लिए ‘‘बोलना ‘पीओटी’ पर होना है.’’

भाषा इनपुट