पणजी: गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत (CM Pramod Swant) ने राज्य में कोरोना वायरस संक्रमण (Corona Virus Infection) के मामले बढ़ने के बीच लॉकडाउन (Lockdown) लगाने की किसी भी संभावना से इनकार किया है. सांवत ने शुक्रवार को एक टेलीविजन चैनल से बातचीत में कहा कि ‘अनलॉक’ की प्रक्रिया शुरू हो गई है और आर्थिक गतिविधियां प्रारंभ करने को प्राथमिकता दी जानी चाहिए. Also Read - Schools Reopen in India from September, Fact Check कोरोना संकट के बीच क्या खुलने जा रहे हैं स्कूल..?, यहां जानें सच्चाई

उन्होंने कहा, ‘‘कोरोना वायरस के बारे में लोगों को जागरूक करने और जानकारी देने के लिए शुरुआत में लॉकडाउन लगाया गया था. वह वक्त अब गुजर गया है.’’ शुक्रवार तक गोवा में संक्रमण के मामलों की कुल संख्या 2,151 थी जिनमें से 1,347 लोग उपचार के बाद स्वस्थ हो गए हैं और नौ लोगों की संक्रमण से मौत हो चुकी है. Also Read - तमिलनाडु: सार्वजनिक स्थानों पर भगवान गणेश मूर्तियों की स्थापना की अनुमति नहीं, ये है वजह

गोवा में पहले से हालात बदले हैं लेकिन एक बार फिर से कोरोना के धीरे धीरे मामले बढ़ते जा रहे हैं. शुक्रवार को गोवा की एक जेल में एक जेलर कोरोना वायरस पॉजिटिव पाए गए जिसके बाद प्रशासन में हड़कंप मच गया. Also Read - कोरोना से दिल्ली में अब तक डेढ़ लाख संक्रमित, मृतकों का आंकड़ा 4 हज़ार पार

गोवा सरकार ने कोलवाल स्थित केंद्रीय कारागार में एक जेलर के कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने के बाद सभी कैदियों की जांच शुरू कर दी है. राज्य के स्वास्थ्य सचिव निला मोहनन ने बताया कि जेल के सभी कैदियों की जांच शुक्रवार से शुरू कर दी गई है. उन्होंने शुक्रवार को पत्रकारों से बातचीत में कहा कि हाल ही में एक जेलर के संक्रमित पाए जाने के बाद एहतियाती कदम के तौर पर जांच शुरू की गई है.

मोहनन ने शुक्रवार को कहा, ‘‘कुछ दिन पहले हमें सूचना मिली कि एक जेलर संक्रमित पाया गया है. इसके बाद हमने जेलरों, स्टाफ सदस्यों और दो-तीन कैदियों समेत 42 अन्य के नमूने लिए जो उनके संपर्क में आए थे. लेकिन वे सभी संक्रमित नहीं पाए गए.’’ उन्होंने कहा, ‘‘शुक्रवार से स्वास्थ्य अधिकारियों ने जेल में व्यापक जांच शुरू कर दी. हर कैदी की जांच की जा रही है.

अभी तक कुल 161 नमूनों की जांच की गई और इनमें से कोई संक्रमित नहीं पाया गया है.’’ अधिकारी ने बताया कि शुक्रवार शाम तक कुल 221 नमूने एकत्रित किए गए और अगले कुछ दिनों तक यह अभियान जारी रहेगा.