नई दिल्ली: विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान का श्रीनगर से बाहर तबादला कर दिया गया है और उन्हें पश्चिमी क्षेत्र में एक अग्रिम वायुसेना अड्डे पर तैनात किया गया है. आधिकारिक सूत्रों ने शनिवार को यह जानकारी दी. यह भी समझा जा रहा है कि वायुसेना अभिनंदन के नाम की सिफारिश ‘वीरचक्र’ के लिए करने जा रही है, जो युद्धकाल के लिए एक वीरता पदक है और परमवीर चक्र तथा महावीर चक्र के बाद इसका स्थान आता है. Also Read - Sarkari Naukri 2020: IAF Recruitment 2020: भारतीय वायु सेना राजस्थान में इस दिन आयोजित करेगी भर्ती रैली, आज से आवेदन प्रक्रिया हुई शुरू

गौरतलब है कि अभिनंदन को पाकिस्तान ने 27 फरवरी को भारतीय वायुसेना के साथ हुई हवाई झड़प के दौरान पकड़ लिया था. हालांकि, उसने बाद में उन्हें स्वदेश वापस भेज दिया था. वह पिछले महीने श्रीनगर में अपने स्कवाड्रन में लौटे थे. सूत्रों ने बताया कि उनका श्रीनगर से पश्चिमी सेक्टर के दूसरे बेस में तबादला करने का आदेश जारी किया गया है और इस कदम को नियमित प्रक्रिया बताया गया है. Also Read - पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र से होंगी पहली महिला राफेल पायलट, वाराणसी के नाम जुड़ा एक और कीर्तिमान

वायुसेना के पायलट अभिनंदन मध्य मार्च में अवकाश पर चले गए थे. सूत्रों ने बताया कि एक मेडिकल बोर्ड उनकी फिटनेस की समीक्षा करेगा, ताकि वायुसेना के शीर्ष अधिकारियों को यह फैसला करने में मदद मिल सके कि क्या वह ‘‘फाइटर कॉकपिट’’ में लौट सकते हैं, जिसकी अभिनंदन ने इच्छा जताई है. Also Read - भारतीय वायुसेना के राफेल बेड़े में जल्द शामिल होंगी पहली महिला पायलट, चल रही है ट्रेनिंग

उल्लेखनीय है कि पाकिस्तान के अंदर बालाकोट में जैश ए मोहम्मद के आतंकी प्रशिक्षण शिविरों पर 26 फरवरी को भारतीय वायुसेना के बम गिराने के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव बढ़ गया था. इसके बाद पाकिस्तान ने जवाबी कार्रवाई करते हुए अगले ही दिन भारतीय सैन्य प्रतिष्ठानों को निशाना बनने की नाकाम कोशिश की थी. जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकवादी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवानों के शहीद होने के 12 दिन बाद भारतीय वायुसेना ने बालाकोट में आतंकी प्रशिक्षण ठिकानों पर बम गिराये थे.