नई दिल्ली. भारतीय वायुसेना के पायलट विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमन लगभग तीन दिनों तक पाकिस्तान की हिरासत में रहने के बाद भारत लौट आए हैं. शुक्रवार की रात 9 बजे के बाद वायुसेना के पायलट अभिनंदन ने वाघा-अटारी सीमा पर भारत की धरती पर कदम रखा. इससे पहले शुक्रवार की देर शाम में पायलट अभिनंदन को पाकिस्तान सरकार की ओर से लाहौर से अटारी-वाघा बॉर्डर लाया गया. वाघा बॉर्डर पर IAF के पायलट के स्वागत के लिए सुबह से ही लोगों की भारी भीड़ जुटी हुई थी. वहीं, वायुसेना के वरिष्ठ अधिकारी और सीमा सुरक्षा बल (BSF) के जवान भी पायलट की आगवानी को लेकर चौकस हैं. सूत्रों ने बताया कि अभिनंदन के साथ इस्लामाबाद में स्थित भारतीय उच्चायोग के अधिकारी भी हैं. वे वाघा में औपचारिकताएं पूरी करने के बाद भारत में प्रवेश करेंगे.

इससे पहले आज सुबह से ही विंग कमांडर अभिनंदन के पाकिस्तान के कब्जे से रिहा होकर अटारी बॉर्डर पर पहुंचने की खबरें आ रही थीं. उनकी आगवानी के लिए अटारी बॉर्डर पर वायुसेना के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे. साथ ही भारी तादाद में आम नागरिक भी अपने बहादुर जवान का अभिनंदन करने जमा हुए थे. अटारी में मौजूद लोगों में देशभक्ति का गजब का जज्बा दिख रहा है. हाथों में तिरंगा लिए हुए लोग देशभक्ति के गाने गा रहे थे और ढोल-नगाड़े बजा रहे थे. कई लोग फूलों का हार लेकर पहुंचे थे और लगातार ‘भारत माता की जय’ के नारे लगा रहे थे. सुबह से इस जगह पर काफी चहल-पहल होने लगी थी. पूरे इलाके में सुरक्षा के इंतजाम बढ़ा दिए गए हैं और पंजाब पुलिस के कर्मी भी भारी संख्या में वहां तैनात हैं. भीड़ में मौजूद कई युवाओं ने कहा कि पाकिस्तान को आतंकवादियों की सहायता करना और उन्हें बढ़ावा देना बंद करना चाहिए अन्यथा वह गंभीर परिणाम भुगतने के लिए तैयार रहे.

अटारी-वाघा में आज होने वाला रिट्रीट समारोह रद्द कर दिया गया है. बीएसएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि सीमा पर दोपहर बाद भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन की रिहाई के मद्देनजर प्रशासनिक जरूरतों के कारण समारोह को रद्द किया गया है. उन्होंने बताया कि भारत-पाकिस्तान सीमा पर पंजाब के अटारी में स्थित समारोह क्षेत्र में जनता को जाने की अनुमति नहीं होगी. इस कार्यक्रम में बीएसएफ के जवानों के साथ ही पाक रेंजर के जवान भाग लेते हैं.

उल्लेखनीय है कि बुधवार सुबह पाकिस्तान के हवाई हमले की कोशिश को विफल करने के दौरान उनका मिग 21 विमान हादसे का शिकार हो गया, जिसके बाद वह पैराशूट से नीचे कूद गए थे. उन्हें पाकिस्तान ने अपने हिरासत में ले लिया था. पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने गुरुवार को संसद में घोषणा की कि अभिनंदन को ‘शांति सद्भाव’ के तहत रिहा किया जा रहा है.