बारदोली: गुजरात के एक मंत्री को महिला ने डेढ़ करोड़ रुपए मांगे और नहीं देने पर न केवल बदनाम करने की धमकी दी बल्‍कि जान से मारने की भी धमकी दी है. ये धमकी गुजरात सरकार के मंत्री ईश्वर परमार को एक पत्र के जरिए दी गई थी. पुलिस ने इस बारे में जानकारी मिलने पर महिला को गिरफ्तार कर लिया है. परमार गुजरात की रूपाणी सरकार में सामाजिक न्याय और सशक्तिकरण मंत्री हैं. Also Read - Bird Flu in Gujarat: गुजरात में पहली बार मुर्गियों में पाया गया बर्ड फ्लू, जंगली पक्षी भी संक्रमित

पुलिस ने बताया कि मंत्री ईश्वर परमार को गुमनाम खत के जरिए धमकी देने और डेढ़ करोड़ रुपए की मांग करने के आरोप में रविवार को एक महिला को गिरफ्तार किया गया. बारदोली पुलिस थाने के अधिकारियों ने बताया कि प्रवीना मैसुरिया ने यह पत्र डाले थे, जिसमें डेढ़ करोड़ रूपए का भुगतान नहीं करने पर परमार को बदनाम करने और जान से मारने की धमकी दी गई थी. परमार गुजरात सरकार में सामाजिक न्याय और सशक्तिकरण मंत्री हैं. Also Read - 'जियो डाटा के बाद जियो आटा' और Reliance Jio लिखकर बेच रहे थे आटा, 4 अरेस्ट

पुलिस थाने के अधिकारियों ने बताया, ”मैसुरिया ने 28 जून और 15 जुलाई को अलग अलग गुमनाम खत डाले, जिसमें उसने डेढ़ करोड़ रुपए का भुगतान नहीं करने पर विधायक ईश्वर परमार को बदनाम करने की धमकी दी. उसने उन्हें और उनके परिवार को मारने की धमकी दी.” उन्होंने बताया कि आईपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत शनिवार रात मामला दर्ज कर लिया गया. Also Read - हाईकोर्ट का बड़ा फैसला- पुलिस को अंतर धर्म शादी करने वाले दंपति को तुरंत रिहा करने का दिया आदेश