नई दिल्लीः राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस के मामले लगातार तेजी से बढ़ रही है. रविवार को यहां कोरोनावायरस से एक महिला शिक्षक की मौत हो गई. महिला शिक्षक की ड्यूटी लोगों को राशन बांटने में लगाई गई थी. नॉर्थ दिल्ली के म्यूनिसिपल कॉर्पोरेशन (NDMC) ने उनकी मौत की जानकारी दी. Also Read - IRCTC 200 Trains List and Stoppage Between Stations: कल से चलेंगी 200 ट्रेन, देखें किस गाड़ी का कहां पर कितनी देर है स्टॉपेज

बतया जा रहा है कि शिक्षिका उत्तरी निगम में अनुबंध पर थीं और बुराड़ी के भरोला इलाके में राशन बांटने के काम पर लगायी गयी थीं. शिक्षिका की उम्र 45 साल बताई जा रही है. दिल्ली में अभी तक लगभग सात हजार कोरोना के मामले सामने आ चुके हैं. अभी तक कुल 73 लोगों ने कोविड-19 से अपनी जान गंवाई है. शिक्षिका की मौत ने पूरे प्रशासन और सरकार को एक बार फिर से राहत कार्य में जुटे लोगों की सुरक्षा पर सवाल खड़े कर दिए हैं. Also Read - Covid-19 Update in India: देश में 24 घंटे में रिकॉर्ड 8,380 केस सामने आए, मृतकों संख्या की संख्या पहुंची 5 हजार के पार

दिल्ली में कोरोना वायरस के मामले को लेकर आज मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए पत्रकारों से बात की. उन्होंने कहा कि राजधानी में ऐसे केस ज्यादा हैं जिनमें कोरोना के लक्षण बेहद कम हैं या फिर  बिल्कुल भी नहीं हैं. उन्होंने कहा कि हमें आगे कुछ महीनों तक ऐहतियात बरतने की बहुत जरूरत हैं. Also Read - महामारी विशेषज्ञ का दावा, 2020 में विकसित हो सकता कोरोना वैक्सीन, मगर 2021 के अंत तक इसका उत्पादन संभव

दिल्ली में पिछले चौबीस घंटे में 381 नए मामले आए हैं जबकि कोरोना वायरस से पिछले चौबीस घंटे में पांच लोगों ने जान गवाई हैं. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि अभी तक दिल्ली में जितने लोगों की कोरोनावायरस से मौत हुई है उनमें से 80 प्रतिशत से ज्यादा लोग पचास साल की उम्र से अधिक के लोग थे.