नई दिल्ली: सीआरपीएफ की महिला बाइकरों का दस्ता 26 जनवरी को आयोजित होने वाली गणतंत्र दिवस परेड के दौरान राजपथ पर पहली बार हैरत अंगेज प्रदर्शन दिखाएगा. अधिकारियों ने सोमवार को यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कि 90 मिनट से ज्यादा चलने वाली परेड के अंत में महिला बाइकरों का 65 सदस्यीय दल 350सीसी रॉयल एनफील्ड बुलेट मोटरसाइकिल पर कलाबाजी के कौशन का प्रदर्शन करेगा.q Also Read - Twitter Blocks 500 Accounts: चेतावनी के बाद ट्विटर की बड़ी कार्रवाई, बंद किए 500 अकाउंट्स, विवादित # हटाया

सीआरपीएफ के प्रवक्ता उप महानिरीक्षक (डीआईजी) मोसेस दिनाकरण ने पीटीआई-भाषा को बताया, “यह पहला मौका होगा जब हमारी महिला बाइकर गणतंत्र दिवस परेड में हिस्सा लेने जा रही हैं.” उन्होंने कहा, “इस दल की स्थापना 2014 में उस संकल्पना के तहत की गई थी जिसमें हमारे द्वारा सभी क्षेत्रों में महिलाओं को समान भागीदारी की प्रतिबद्धता जाहिर की गई है.” Also Read - 26 जनवरी को लाल किले पर नहीं हुआ तिरंगे का अपमान, वीडियो में नहीं दिखी ऐसी कोई बात: शिवसेना

इस दस्ते की कमान त्वरित कार्रवाई बल (आरएएफ) में तैनात निरीक्षक सीमा नाग करेंगी. आरएएफ असल में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल की दंगा निरोधी इकाई है. केरिपुब 3.25 लाख कर्मियों के साथ दुनिया का सबसे बड़ा अर्धसैनिक बल है. महिला बाइक दस्ते के सदस्यों का चुनाव सीआरपीएफ के प्रशिक्षकों द्वारा खासतौर पर किया गया है और ये 25 से 30 साल आयु वर्ग की हैं. Also Read - Republic Day Violence: गणतंत्र दिवस हिंसा के खिलाफ याचिकाओं पर बुधवार को सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट, लाल किले पर फहराया गया था धार्मिक ध्वज

(इनपुट भाषा)