नई दिल्ली: पूर्वी दिल्ली के मंडावली इलाके में गुरुवार को एक महिला ने अपने दो बच्चों के साथ ट्रेन के सामने कूदकर आत्महत्या कर ली. महिला और उसकी दो बेटियों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि उसके तीसरे बच्चे को चोटें आई हैं. यह बच्चा एक साल का है. बच्चा ट्रैक पर खेलता हुआ मिला. वहीं, दोनों बेटियों की उम्र छह और आठ साल थी. Also Read - सुशांत-दिशा सालियान केस में नाम जोड़ने से गुस्से में सूरज पंचोली, दर्ज की शिकायत

रेलवे के डीसीपी हरेन्द्र सिंह ने कहा, “हमें गुरुवार तड़के करीब 4 बजे फोन आया था. यह आत्महत्या का मामला लगता है. महिला और उसकी दो नाबालिग बेटियों की मौत हो गई और एक साल का लड़का बच गया है. हम मामले की जांच कर रहे हैं.” Also Read - रिया चक्रवर्ती से लगातार पूछताछ कर रही है ED, करोड़ों रुपए कहां गए? खुलेंगे गहरे राज़

महिला की पहचान मंडावली निवासी 30 वर्षीय किरण के रूप में हुई है. वह बिहार के मुजफ्फरपुर की रहने वाली है. किरण दिल्ली में अपने पति के साथ रह रही थी. सूत्रों ने बताया कि महिला और उसके पति के बीच कुछ विवाद था. पति को जांच के लिए बुलाया गया है. हालांकि, महिला ने यह कदम क्यों उठाया, इस बारे में जांच की जा रही है. Also Read - अभिनेत्री अनुपमा पाठक ने की आत्महत्या, मुंबई के फ्लैट में मिला शव, सुसाइड से पहले फेसबुक पर शेयर किया वीडियो

आरपीएफ के सीनियर अधिकारी ने बताया की बीती रात करीब 3 बजकर 40 मिनट पर आंनद विहार रेलवे स्टेशन के आरपीएफ स्टाफ को जानकारी मिली की एक महिला के साथ 3 बच्चों की डेड बॉडी रेलवे ट्रेक पर पड़ी है. आरपीएफ के सब इंस्पेक्टर योगेश मौके पर पहुंचे तो देखा की करीब 30 साल की महिला और 5-6 साल के दो बच्चियां की ट्रेन की चपेट में आने से मौत हो चुकी थी और वहीं करीब एक साल का बच्चा जिंदा था. जो पुलिस को देखते ही रोने लगा. बच्चे को अस्पताल पहुंचाया गया है. इनके पास से एक मोबइल फोन बरामद हुआ है. महिला की पहचान किरण के तौर पर हुई है, जो मंडावली इलाके की रहने वाली थी.