नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को कहा कि उनकी सरकार ने राष्ट्रीय राजधानी में महिलाओं के लिए मेट्रो और बस यात्रा मुफ्त करने का प्रस्ताव रखा है. मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने अपने अधिकारियों को प्रस्ताव का अध्ययन करने का निर्देश दिया है. उन्होंने कहा कि सरकार लोगों से भी फीडबैक लेगी. केजरीवाल ने मीडियाकर्मियों से कहा, ”महिलाएं डीटीसी, क्लस्टर बसों और दिल्ली मेट्रो में नि:शुल्क यात्रा करेंगी.” यह कदम ऐसे समय उठाया गया है, जब अगले साल की शुरुआत में दिल्ली में विधानसभा चुनाव होना है.

पुणे में विहिप के जुलूस में हथियार लहराए गए, 250 कार्यकर्ताओं के खिलाफ केस दर्ज

दिल्‍ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा, सभी डीटीसी बसों, क्‍लस्‍टर बसों और मेट्रो ट्रेनों में महिलाओं को मुफ्त यात्रा की अनुमति होगी ताकि वे सुरक्ष‍ित यात्रा का अनुभव करे और यातायात की सभी सुविधाएं पा सकें, जिनका फायदा वे ऊंची कीमत होने के कारण उठा नहीं पा रही थीं.

सीएम ने कहा कि सब्‍सिडी किसी पर भी लागू नहीं होगी. ऐसी बहुत सी महिलाएं हैं, जो परिवहन के साधनों के खर्चों को वहन सकती है, टिकट खरीद सकती हैं. उन्‍हें छूट की जरूरत नहीं है. हम उन्‍हें प्रोत्‍साहित करेंगे, जो टिकट खरीद सकते हैं और छूट नहीं लेते हैं, ताकि दूसरों को फायदा मिल सके.

सीएम केजरीवाल ने कहा कि शुरुआत में हम केंद्र से कहा था कि टिकट की कीमतें न बढ़ाएं, वे सहमत नहीं हुए. हमने उनसे कहा था कि हम 50-50 फीसदी के हिस्‍सेदार हैं. हम बढ़ाए गए किराए पर 50- 50 प्रतिशत की छूट दे दें तो वे सहमत नहीं हुए. दिल्‍ली सरकार किराये को वहन करेगी, जो कि हम करने जा रहे हैं. हमें इसकी स्‍वीकृति लेने की किसी से जरूरत नहीं है.

मुख्यमंत्री ने शनिवार को एक जनसभा में कहा था कि उनकी सरकार दिल्ली में महिलाओं को सार्वजनिक परिवहन के उपयोग के प्रति प्रोत्साहित करने के वास्ते उनके लिए मेट्रो और बस यात्रा मुफ्त करने पर विचार कर रही है. उन्होंने यह भी कहा था कि उनकी सरकार बिजली बिलों के निर्धारित शुल्क को कम करने के लिए शहर के बिजली नियामक के संपर्क में है.