नई दिल्ली| विश्व जनसंख्या दिवस से एक दिन पहले सोमवार को कॉमनवेल्थ खेलों की गोल्ड मेडलिस्ट गीता फोगाट ने दो बच्चों को जन्म देने की शपथ ली. दरअसल, गीता खुद चार बहनें हैं. दिल्ली में भारत फॉर पॉपुलेशन लॉ मुहिम के तहत हुए प्रोग्राम में गीता ने कहा कि उनके घर में बेटे की चाह में चार बेटियां पैदा हुई थीं, लेकिन वो ऐसी सोच नहीं रखतीं. इसलिए वो ऐसा नहीं करेंगी.Also Read - Ritika Phogat Suicide: बहन गीता-बबीता फोगट से लेकर केंद्रीय मंत्री जनरल VK Singh ने दी दुर्भाग्‍यपूर्ण घटना पर प्रतिकिया, जानें किसने क्‍या कहा

दिल्ली में भारत फॉर पॉपुलेशन लॉ मुहिम के तहत हुए प्रोग्राम में गीता ने कहा, “‘मैं दो बच्चों को ही जन्म दूंगी, चाहे वे बेटी हों या फिर बेटे. मेरी मां बेटा चाहती थीं, उनकी इस ख्वाहिश में हम चार बहनें हो गईं. लेकिन मैं और मेरे पति पवन ऐसा नहीं करेंगे. मेरा परिवार भी इस पहल में मेरे साथ है.” उन्होंने कहा कि सरकार को इससे जुड़ा कोई कानून बनाना चाहिए. दो बच्चों के जन्म पर कोई नेशनल पॉलिसी बने तो हमें बहुत खुशी होगी. लोगों के दिलों में बेटी के जन्म को लेकर जो गलतफहमी है, वह भी दूर होनी चाहिए. Also Read - मां बनने के बाद 'दंगल गर्ल' ने टोक्यो ओलंपिक के लिए भरी हुंकार, तैयारी शुरू की

गीता ने कहा, “देश की बढ़ती आबादी बहुत चिंता की बात है, क्योंकि रिसोर्सेज लगातार घट रहे हैं। महिलाएं इसे रोकने के लिए आगे नहीं आईं तो यह परेशानी और बढ़ जाएगी.” इस दौरान गीता ने अबॉर्शन पर सख्ती से रोक की बात कही. उन्होंने बेटी गोद लेने पर जोर देते हुए कहा, “अगर किसी के दो बेटे होते हैं और इसके बाद भी वे चाहते हैं कि लड़की हो तो बेटी गोद ले सकते हैं।” Also Read - दंगल गर्ल गीता फोगाट ने दिया बेटे को जन्म, दोस्त हिना खान ने लिखा ये संदेश

बता दें कि दुनिया की कुल आबादी में चीन की 19% और भारत की 18% की हिस्सेदारी है. यूनाइटेड नेशंस के मुताबिक, भारत की आबादी 2024 तक चीन से ज्यादा हो जाएगी. फिलहाल चीन की आबादी 1.41 अरब और भारत की 1.34 अरब है.