नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज कहा कि लोगों को बिना परेशानी उनके मकान मिल सकें यह सुनिश्चित करने के लिए सरकार आवासीय क्षेत्र को भ्रष्टाचार और बिचौलिया मुक्त बनाने पर काम कर रही है. उन्होंने कहा कि आधुनिक तकनीक के इस्तेमाल से ग्रामीण और शहरी इलाकों में वहनीय दरों पर गरीबों के लिए तेजी से मकान बनना सुनिश्चित हो रहा है.Also Read - Prime Minister Atmanirbhar Swasth Bharat Yojana: PM Modi ने किया उद्घाटन, जानें उद्देश्य | Watch Video

पीएम आवास योजना के तहत मकान Also Read - जी-20 शिखर सम्मेलन 30 अक्टूबर को, पीएम मोदी अफगान संकट पर कर सकते हैं ये आह्वान

प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभार्थियों को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए सम्बोधित करते हुए मोदी ने कहा कि हम आवासीय क्षेत्र को भ्रष्टाचार और बिचौलिया मुक्त बनाने पर काम कर रहे हैं और सुनिश्चित कर रहे हैं कि लाभार्थियों को बिना किसी दिक्कत अपने मकान मिल जाएं. उन्होंने यह भी कहा कि आवासीय क्षेत्र को आधुनिकतम तकनीकों से लैस किया जा रहा है. प्रधानमंत्री ने कहा कि इससे शहरों और गांवों में गरीबों के लिए तेजी से मकान बन पा रहे हैं. Also Read - Man Ki Baat में बोले PM Modi-जल्द ही आपकी सभी जरूरतों के लिए ड्रोन तैनात किए जाएंगे, जानिए और क्या कहा..

मोदी ने कहा कि महिलाओं , दिव्यांगों , एससी / एसटी , ओबीसी और अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों को मकान मिल सकें , इसपर ज्यादा ध्यान दिया जा रहा है. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना हमारे नागरिकों के सम्मान से जुड़ा है. योजना के कारण लोगों के लिए रोजगार के अवसर पैदा हो रहे हैं. इसी के साथ ही हम बेहतर गुणवत्ता वाले मकानों का तेजी से निर्माण करने के लिए कौशल विकास पर भी काम कर रहे हैं.

मिशन मोड में काम कर रही सरकार

प्रधानमंत्री ने कहा कि पिछले चार वर्षों में सभी को मकान दिलाने के लिए सरकार मिशन मोड पर काम कर रही है. उन्होंने कहा कि भारत की आजादी के 75 साल पूरे होने के अवसर पर 2022 में सभी के पास अपना मकान हो , सरकार इस लक्ष्य के साथ काम कर रही है.

मोदी ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत सरकार ग्रामीण क्षेत्रों में तीन करोड़ जबकि शहरी क्षेत्रों में एक करोड़ मकान बनाने की योजना बना रही है. सरकार ने अभी तक शहरी क्षेत्रों में 47 लाख से ज्यादा मकान बनाने की अनुमति दी है जो पिछले दस साल के मुकाबले चार गुना ज्यादा है.

1 करोड़ मकान बनाने की दी इजाजत

मोदी ने कहा कि वहीं शहरी क्षेत्र में एनडीए सरकार ने एक करोड़ मकान बनाने की अनुमति दी है जबकि पिछली सरकार ने अपने अंतिम चार सालों में महज 25 लाख मकानों के निर्माण की अनुमति दी थी. उन्होंने कहा कि सरकार ने इन मकानों के निर्माण में लगने वाले समय को भी 18 माह से घटा कर छह माह कर दिया है. इससे छह माह का समय बचता है.