गाजियाबादः गाजियाबाद के मुरादनगर इलाके में शनिवार को आधी रात को कांवड मार्ग पर गंगनहर में बही एक्सयूवी कार में बही दोनों छात्राओं सहित चारों दोस्तों का अभी तक कोई पता नहीं चला है. एनडीआरएफ और पुलिस की टीमों द्वारा तलाशी अभियान लगातार जारी है. रविवार रात बात करते हुए यह जानकारी गाजियाबाद के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी ने दी. Also Read - Top 5 cheapest SUV cars in India: ये हैं भारत की सबसे सस्ती 5 एसयूवी कार, जानिए इनकी ऑन रोड कीमत, फीचर्स और माइलेज

एसएसपी ने कहा, “युद्ध स्तर पर बिना रुके दिन-रात तलाशी अभियान जारी रखे हुए हैं. हादसा खड़ी कार में एक्सयूवी के टकराकर गंगनहर में जा गिरने से हुआ. हादसा रात करीब एक बजे डिडौली गांव के करीब हुआ. हादसे के बाद कार की खिड़की खुल गयी थी. हादसे में निशांत, कनिका, सृष्टि और हिमांशु कार के साथ ही बह गर. जबकि मौका मिलते ही अनमोल और हर्षित तैर कर नहर से बाहर निकल आए.” Also Read - मुंबई पुलिस के गिरफ्तार अफसर सचिन वाझे पर बड़ा खुलासा, तीन कंपनियों में निदेशक भी है

एसएसपी गाजियाबाद ने आगे कहा, “सुरक्षित बचे अनमोल और हर्षित बारहवीं कक्षा के छात्र हैं. अनमोल के पिता अमेरिका में नौकरी करते हैं. हर्षित के पिता का अपना कारोबार है. हादसे की खबर सुनते ही मौके पर पहुंचे बचाव दल को हर्षित और अनमोल ने बताया कि उन लोगों का प्लान मथुरा घूमने जाने का था. निशांत, कनिका, सृष्टि और हिमांशु देहरादून से मुजफ्फनगर में पहुंचे तो वो दोने भी (हर्षित और अनमोल) उन चारों के साथ कार में बैठ गए. एक दिन दिल्ली में भी रुकने का प्लान था.” Also Read - Gautam Buddha Nagar, Ghaziabad में धारा 144 लागू, घर से निकलने से पहले जान लें ये रूल्‍स

पुलिस के मुताबिक, हादसे में कार के साथ ही बह गए निशांत एग्रीकल्चर डिपार्टमेंट में लिपिक हैं. जबकि हिमांशु देहरादून से बीसीए कर रहा है. सृष्टि और कनिका देहरादून में रहकर उत्तराखंड विवि से एमबीए कर रही हैं. खबर लिखे जाने तक पुलिस अधीक्षक देहात नीरज जादौन सहित तमाम आला अफसरान मौके पर ही मौजूद हैं. बचाव अभियान पर सीधे-सीधे एसएसपी खुद नजर रखे हैं.