नई दिल्ली: हरियाणा के हथिनीकुंड से पानी छोड़े जाने और लगातार बारिश से शनिवार को दिल्ली मेंं यमुना नदी का जलस्तर खतरे के निशान से ऊपर चढ़ गया. निचले इलाकों के लोगों के घरों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाने के लिए तैयारी शुरू कर दी गई है. शनिवार सुबह 11 बजे तक हथिनी कुंड बैराज से 3,11,1 90 क्यूसेक पानी यमुना में छोड़ा गया. बता दें एक दिन पहले जारी चेतावनी में कहा गया था कि पहाड़ों में हो रही भारी बारिश के चलते हथनीकुंड बैराज से 1.31 लाख क्यूसेक पानी छोड़े जाने के बाद शनिवार को यमुना नदी का जलस्तर चेतावनी के स्तर को छू सकता है. Also Read - दिल्ली में बढ़ी बिजली की मांग, जुलाई में कायम हो सकता है नया रिकॉर्ड

Also Read - कैंसर का दर्द झेलते हुए यह IPS अफसर कोरोना जंग में जुटा रहा था, जब तकलीफ बढ़ी तो...

Live: दिल्ली-एनसीआर में फिर बारिश, जगह-जगह ट्रैफिक जाम की आशंका, गंभीर हो सकता है यमुना नदी का जलस्तर Also Read - Domestic flights Booking: 25 मई से खुल रहा है नई दिल्ली का IGI एयरपोर्ट, टर्मिनल-3 उड़ान भरेंगे सभी विमान

यमुना नदी दिल्ली में खतरे के निशान से बह रही है. कश्मीरी गेट के पास ओल्ड आयरन ब्रिज के दृश्य. बचाव और राहत कार्यों के लिए 43 नौका तैनात की गई हैं.

शनिवार सुबह 11 बजे हरियाणा की हथिनी कुंड बैराज से 3,11,1 90 क्यूसेक पानी यमुना में छोड़ा गया. वर्तमान में यमुना नदी दिल्ली में खतरे के निशान से बह रही है.

गाजियाबाद के वसुंधरा में सड़क धंसी, दो अपार्टमेंट के 80 फ्लैटों पर मंडराया खतरा

सिंचाई और बाढ़ नियंत्रण विभाग के एक अधिकारी ने शनिवार को बताया कि दिल्ली में यमुना नदी का जलस्तर सुबह 10 बजे 204.83 मीटर के निशान तक पहुंच गया. अधिकारी ने बताया, “सुबह 10 बजे पानी का स्तर 205.06 मीटर तक चढ़ गया.” अधिकारी ने कहा कि ‘पानी का स्तर आगे बढ़ेगा’ लेकिन अभी ‘कोई खतरा नहीं है’.

वर्तमान जलस्तर खतरे के निशान से 0.23 मीटर अधिक है. अधिकारी ने कहा, “सुबह 9 बजे हरियाणा ने हथिनीकुंड बैराज से 2,11,874 क्यूसेक पानी छोड़ा – जिसका उपयोग दिल्ली में पीने के उद्देश्यों के लिए किया जाता है – और बाद में पानी अधिक छोड़ा गया.

एक दिन पहले जारी हुई थी दिल्ली में बाढ़ की चेतावनी

यमुना का जलस्तर खतरे के निशान को पार करने के बाद दिल्ली सरकार ने शुक्रवार को एक अलर्ट जारी किया था. एक अधिकारी ने बताया कि दिल्ली सरकार के सिंचाई एवं बाढ़ नियंत्रण विभाग ने निचले इलाकों में रह रहे 100 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने के लिए तैयारियां की है.

जलस्तर में वृद्धि हो रही

पूर्वी दिल्ली जिला प्रशासन ने एक बयान जारी कर कहा था कि दिल्ली ओल्ड रेलवे ब्रिज पर यमुना का जलस्तर 27 जुलाई को शाम सात बजे 204. 10 मीटर पहुंच गया. जलस्तर में वृद्धि हो रही है. बयान में कहा गया है कि सभी एग्जक्यूटिव इंजीनियरों / सेक्टर ऑफिसर को नियंत्रण कक्ष से करीबी संपर्क रखने का निर्देश दिया गया है. रैपिड एक्शन फोर्स की टीम के तहत हमारे लोग तैनात हैं और आज सेवा में वाहन तथा तीन नौकाओं को लगाया गया. (इनपुट- एजेंसी)