नई दिल्ली: नकदी निकालने के लिए यस बैंक की एटीएम मशीनों के बाहर खाताधारकों की लंबी-लंबी कतारें शनिवार को भी देखी गयीं. लेकिन अधिकतर ग्राहकों को इन मशीनों से खाली हाथ लौटना पड़ा. संकट से जूझ रहे यस बैंक पर रिजर्व बैंक ने कई तरह की रोक लगा रखी है. हालांकि, कई खाताधारकों का कहना है कि बैंक की शाखाओं से चेक के जरिये 50,000 रुपये की निर्धारित राशि की निकासी हो रही है. Also Read - Yes Bank के कस्‍टमर्स की मुश्‍किलें खत्‍म, नकदी से भरे हैं एटीएम, सभी ग्राहक सेवाएं शुरू

रिजर्व बैंक ने यस बैंक पर तीन अप्रैल तक रोक लगाने के साथ उसके निदेशक मंडल को भी तत्काल प्रभाव से भंग कर दिया है. साथ ही प्रत्येक खाताधारक को महीने में 50,000 रुपये तक निकासी करने की अनुमति दी है. केंद्रीय बैंक ने भारतीय स्टेट बैंक के पूर्व मुख्य वित्त अधिकारी प्रशांत कुमार को बैंक का प्रशासक नियुक्त किया है. Also Read - YES बैंक से प्रतिबंध हटा, सभी बैंकिंग सर्विसेज चालू, ग्राहकों ने शुरू किया पैसे निकालना

हालांकि, बैंक के ग्राहक काफी परेशानियों से गुजर रहे हैं क्योंकि इंटरनेट बैंकिंग सेवाएं भी काम नहीं कर रही हैं. जबकि कुछ की शिकायत है कि क्रेडिट कार्ड भी काम नहीं कर रहे हैं. यस बैंक की यहां गोल मार्केट शाखा के खाताधारक ललित कुमार ने बताया, ‘‘ इंटरनेट बैंकिंग काम नहीं कर रही है. यहां तक कि क्रेडिट कार्ड भी काम नहीं कर रहे हैं. हालांकि, मुझे चेक के माध्यम से पैसे निकालने में कोई दिक्कत नहीं आयी.’’ Also Read - प्रशांत कुमार होंगे यस बैंक के नए प्रबंध निदेशक, सीईओ, निदेशक मंडल के पुनर्गठन को मंजूरी

गाजियाबाद में यस बैंक के एक एटीएम के बाहर ग्राहकों की लंबी कतार देखी गयी लेकिन एटीएम मशीनों में पैसे नहीं निकल रहे थे.

(इनपुट भाषा)