FIR Against Yogendra Yadav in Case of Tractor Rally Violence: ट्रैक्टर रैली (Tractor Rally Violence) हिंसा मामले में योगेंद्र यादव (Yogendra Yadav) के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है. इसके साथ ही मेधा पाटेकर और बूटा सिंह के खिलाफ भी एफआईआर हुई है. दिल्ली पुलिस ने कहा कि ट्रैक्टर रैली के दौरान हुई हिंसा के लिए ये तीनों भी जिम्मेदार हैं.Also Read - करनाल में सचिवालय के बाहर डटे किसान, जिला प्रशासन से दूसरे दिन भी वार्ता बेनतीजा

दिल्ली पुलिस ने योगेन्द्र यादव, मेधा पाटकर, बूटा सिंह के साथ ही 37 किसान नेताओं के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है. दिल्ली पुलिस ने कहा कि ये सभी किसी न किसी तरह से हिंसा के जिम्मेदार हैं. Also Read - लाल किला हिंसा: आरोपी मनिंदर सिंह को पुलिस ने किया गिरफ्तार, 26 जनवरी की हिंसा में था शामिल

ट्रैक्टर रैली (Tractor Rally) में हुई हिंसा के मामले में किसान नेता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) के खिलाफ हत्या के प्रयास का मुकदमा दर्ज दिया गया है. दिल्ली पुलिस ने धारा 307 में राकेश टिकैत को नामजद किया है. इसके साथ ही दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने राकेश टिकैत पर कई और धाराएं लगाई हैं. Also Read - दिल्ली पुलिस ने कहा- दीप सिद्धू 26 जनवरी हिंसा का प्रमुख खिलाड़ी, छिपकर भी युवाओं को उकसा रहा था

राकेश टिकैत के साथ ही किसान नेता दर्शन पाल, राजिंदर सिंह, बलबीर सिंह राजेवल, बूटा सिंह बुर्जगिल, जोगिंदर सिंह उगराहा के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ है. ये सभी किसान नेता कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहे आंदोलन की अगुवाई कर रहे हैं.