लखनऊ: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को कहा कि कमिश्नरी प्रणाली को बेहतरीन पुलिसिंग का मॉडल बनाकर आगे बढ़ने से उत्तर प्रदेश पुलिस निश्चित रूप से दुनिया का सबसे अच्छा पुलिस बल बन सकती है. योगी ने पुलिस मुख्यालय में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि अगर पुलिस आयुक्त प्रणाली को पुलिसिंग का मॉडल बनाकर चला जाए तो राज्य पुलिस को निश्चित रूप से दुनिया के सबसे अच्छे पुलिस बल के रूप में स्थापित किया जा सकता है. Also Read - UP Police SI Recruitment 2021: यूपी पुलिस में सब इंस्पेक्टर के पदों पर निकली बंपर वैकेंसी, इस दिन से करें आवेदन, 34 हजार से अधिक मिलेगी सैलरी 

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश सरकार ने हाल में राजधानी लखनऊ और गौतम बुद्ध नगर में पुलिस आयुक्त प्रणाली लागू की है. मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार ने एक नया प्रयोग प्रारंभ किया है जिसे युद्धस्तर पर लागू करना है. उन्होंने कहा कि शाम या रात के समय अगर कोई महिला अकेली जा रही है तो उन्हें सुरक्षित उनके घर तक छोड़ देना पुलिस के प्रति आम नागरिक के विश्वास को बढ़ाएगा. इससे सुरक्षा व्यवस्था भी बेहतर होगी. Also Read - UP: Child Porn देखने के शौकीन हैं तो हो जाएं अलर्ट, यूपी पुलिस की चेतावनी के Viral Video का जानें सच

चिदंबरम को गिरफ्तार करने वाले DSP पार्थसारथी समेत 28 CBI ऑफिसर्स को राष्ट्रपति पदक Also Read - Rape Accused Escaped From Police Custody: उत्तर प्रदेश में नाबलिग से दुष्कर्म का आरोपी पुलिस हिरासत से फरार

योगी ने कहा कि चाहे जैसे भी हो अपराधियों को सुधरना ही होगा. उन्होंने कहा कि अपराधी या तो कानून से सुधरेंगे या पुलिस के डंडे से. हमें दोनों के लिए तैयार रहना होगा. साथ ही आम जनता के साथ सीधा संवाद भी आगे बढ़ाना होगा. मुख्यमंत्री ने कहा कि ड्यूटी के दौरान शहीद होने वाले जवानों के परिवार को दी जाने वाली धनराशि को प्रदेश सरकार ने कई गुना बढ़ाया है. इसके साथ ही ड्यूटी के दौरान गंभीर रूप से घायल या कोमा में चले जाने वाले जवानों को वेतन के बराबर पेंशन राशि आजीवन दिए जाने की व्यवस्था भी की गई है.

इससे पहले मुख्यमंत्री ने प्रयागराज कुंभ मेला – 2019 के सफल आयोजन में उत्कृष्ट भूमिका निभाने वाले पुलिस अधिकारियों और पुलिसकर्मियों को मेडल से नवाजा. योगी ने कॉफी टेबल बुक – ‘कुंभ 2019’, ‘कुम्भ मेला सोशल मीडिया हैंडबुक’ और ‘स्मार्ट पुलिसिंग’ कॉफी टेबल पुस्तक का विमोचन भी किया.