नई दिल्ली: बसपा अध्यक्ष मायावती ने भाजपा और कांग्रेस पर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के सपनों को साकार करने में नाकाम रहने का आरोप लगाते हुए कहा है कि इस नाकामी को छुपाने के लिए ही गांधी जयंती के अवसर पर विधानसभा का विशेष सत्र बुलाना पड़ रहा है और पदयात्रा करनी पड़ रही है.

मायावती ने बुधवार को ट्वीट कर कहा, ‘गांधी जी की 150वीं जयंती पर उप्र विधानसभा का विशेष सत्र बुलाकर उनके कार्यों का व्याख्यान करना नहीं बल्कि इसकी आड़ में भाजपा द्वारा अपनी सरकार की विफलताओं पर पर्दा डालना असली मकसद है. इसीलिए बसपा ने अपने विधायकों को बाढ़ पीड़ितों की सहायता के असली जनहित के काम में लगाया है.’

सोनिया गांधी का BJP पर हमला, कहा- गांधी का नाम लेना आसान, उनके बताए रास्ते पर चलना मुश्किल

उल्लेखनीय है कि भाजपा की अगुवाई वाली योगी आदित्यनाथ सरकार ने गांधी जयंती के अवसर पर उत्तर प्रदेश विधानसभा का विशेष सत्र बुलाया है, वहीं कांग्रेस ने पदयात्रा का आयोजन किया.

कांग्रेस और भाजपा पर गांधी जी के सपनों को साकार करने में नाकाम रहने का आरोप लगाते हुए मायावती ने कहा, ‘केन्द्र और उत्तर प्रदेश सहित देश के विभिन्न राज्यों में सर्वाधिक समय तक सत्ता में रहने के बावजूद जब कांग्रेस पार्टी गांधी जी का सपना थोड़ा भी साकार नहीं कर पाई तो अब सत्ता से बाहर रहकर ‘पदयात्रा’ करने से क्या होगा? यही स्थिति भाजपा की भी देखने को मिल रही है. जनता सावधान रहे.’

(इनपुट-भाषा)