लखनऊ: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को जनपद जौनपुर पहुंचकर आकाशीय बिजली गिरने, ओलावृष्टि एवं वर्षा के कारण पेड़ गिरने से हुई तीन किसानों की मृत्यु पर उनके परिजनों को सहायता राशि के तहत चार चार लाख रुपए का चेक प्रदान किया. उन्होंने शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना भी व्यक्त की. मुख्यमंत्री ने ओलावृष्टि एवं वर्षा के कारण कृषकों की फसल को हुए नुकसान के दृष्टिगत 57 प्रभावित कृषकों को राहत हेतु सहायता राशि का चेक प्रदान किया. Also Read - मनीष सिसोदिया का बयान, कहा-कोविड-19 पर ‘‘ओछी’’ राजनीति कर रही है भाजपा 

मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर जनपद के करंजाकला विकासखण्ड में राहत वितरण कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि जिन किसानों का बारिश एवं ओलावृष्टि से नुकसान हुआ है, उन्हें राज्य सरकार द्वारा सहायता राशि प्रदान की जाएगी. उन्होंने पीड़ित किसानों के प्रति सहानुभूति व्यक्त की. Also Read - योगी आदित्यनाथ का निर्देश, लॉकडाउन में असहयोग करने वालों के खिलाफ होगी सख्त कार्रवाई 

योगी ने जिलाधिकारी को निर्देशित किया कि वह ओलावृष्टि एवं वर्षा से हुई फसल क्षति से प्रभावित किसानों की सूची राजस्व विभाग के माध्यम से तैयार कराएं. प्रदेश सरकार द्वारा प्रत्येक किसान की क्षति की भरपाई की जाएगी. उन्होंने यह निर्देश भी दिए कि जिन कृषकों का मकान ध्वस्त हुआ है, उनकी भी सूची तैयार करायी जाए और उन्हें प्रधानमंत्री/मुख्यमंत्री आवास योजना के अन्तर्गत पात्रता के आधार पर आवास उपलब्ध कराया जाए. Also Read - समाजवादी पार्टी ने यूपी के बजट को ‘पुरानी बोतल में नया पानी’ बताया

मुख्यमंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना के तहत पात्र किसानों को आर्थिक मदद उपलब्ध कराने की व्यवस्था की गई है. ओलावृष्टि, आकाशीय बिजली गिरने से किसानों, खेतिहरों आदि की मृत्यु होने पर उनके परिजनों को योजना का लाभ दिया जाएगा.